भोपालः तंग बस्तियों में आयोजित स्वास्थ्य शिविर में दो हजार से अधिक हितग्राही लाभान्वित

- 100 अधिक लोगों के बने आयुष्मान कार्ड,150 से अधिक ने बनवाई आभा आईडी

भोपाल, 4 जुलाई (हि.स.)। भोपाल की 20 तंग बस्तियों में गुरुवार को स्वास्थ्य शिविर आयोजित किए गए। ये शिविर सप्ताह के प्रत्येक गुरुवार को निर्धारित बस्तियों में शिविर आयोजित किए जाते हैं। जिसके तहत माह के प्रथम गुरुवार को 20 जगहों पर शिविर लगाए गए। शिविरों में 2024 हितग्राहियों का स्वास्थ्य परीक्षण कर विभिन्न स्वास्थ्य सेवाओं से लाभान्वित किया गया।

ये शिविर नवीन बस्ती भौंरी,ईशान नगर, मांडवा बस्ती ,बीजासेन नगर,सूरज नगर, वल्लभ नगर, रोशनपुरा, बंगाली कॉलोनी,रविदास कॉलोनी,बाग मुगलिया,न्यू शिव नगर, आजाद नगर, शांति नगर,शहरी प्राथमिक स्वास्थ्य केंद्र अशोका गार्डन, हबीबीया स्कूल, संजीवनी क्लिनिक ओल्ड सुभाष नगर, संजीवनी क्लिनिक बरखेड़ी, संजीवनी क्लिनिक जहांगीराबाद, संजीवनी क्लिनिक न्यू कबाड़खाना में आयोजित किए गए।

शिविरों में हितग्राहियों का स्वास्थ्य परीक्षण, निशुल्क जांच एवं दवा वितरण, हाई रिस्क गर्भवती महिलाओं का चिन्ह्यांकन, कुपोषित बच्चों का चिन्ह्यांकन एवं रेफरल, आभा आईडी एवं आयुष्मान कार्ड बनाना एवं ई केवाईसी, नियमित टीकाकरण, जापानी इंसेफेलाइटिस टीकाकरण एवं वयस्क बीसीजी टीकाकरण की सेवाएं दी गईं। साथ ही टीबी, कुष्ठ , हाइपरटेंशन, डायबिटीज़, कैंसर, प्रसव पूर्व जांच एवं बच्चों की जांच की गई। बस्ती शिविरों में 140 महिलाओं की ए एन सी जांच की गई, जिनमें से 65 में एनीमिया के लक्षण मिले हैं। इन महिलाओं को प्रतिदिन आईएफए सेवन एवं पोषण आहार की सलाह दी गई। 24 गर्भवतियों में हाई रिस्क के लक्षण मिले हैं। इन महिलाओं के नियमित फॉलोअप के साथ अतिरिक्त जांचें भी सुनिश्चित की जाएंगी।

शिविर में 788 लोगों की हाइपरटेंशन जांच में 62 का रक्तचाप बढ़ा पाया गया। 674 लोगों की डायबिटीज जांच में 61 लोगों में शुगर लेवल बढ़ा हुआ मिला है। शिविर में 101 आयुष्मान कार्ड और 156 आभा आई डी बनाई गई। 88 लोगों को वयस्क बी सी जी टीका लगाया गया। शिविर में पांच साल तक की उम्र के 230 बच्चों का स्वास्थ्य परीक्षण किया गया। 77 बच्चों को नियमित टीकाकरण में टीके लगाए गए। मुख्य चिकित्सा एवं स्वास्थ्य अधिकारी भोपाल डॉ. प्रभाकर तिवारी ने बताया कि शिविरों में चिह्नांकित मरीजों को उपचार के साथ साथ रेफरल एवं रेफरल पश्चात फॉलोअप सुनिश्चित करने के लिए जिला स्तरीय नोडल अधिकारियों द्वारा पर्यवेक्षण करवाया जा रहा है। शिविरों में शासन द्वारा चलाई जा रही जनकल्याणकारी कार्यक्रमों एवं योजनाओं की जानकारी भी दी जा रही है।

हिन्दुस्थान समाचार / मुकेश

हमारे टेलीग्राम ग्रुप को ज्‍वाइन करने के लि‍ये  यहां क्‍लि‍क करें, साथ ही लेटेस्‍ट हि‍न्‍दी खबर और वाराणसी से जुड़ी जानकारी के लि‍ये हमारा ऐप डाउनलोड करने के लि‍ये  यहां क्लिक करें।

Share this story