मप्र विधानसभा: बजट सत्र के चौथे दिन भी विपक्ष का हंगामा, विश्वास सारंग के खिलाफ विशेषाधिकार हनन की मांग को लेकर अडा विपक्ष

भोपाल, 4 जुलाई (हि.स.)। मध्य प्रदेश विधानसभा के बजट सत्र के चौथे दिन गुरुवार को भी विपक्षी दल कांग्रेस ने सदन में हंगामा किया। आज आम बजट को लेकर सदन में चर्चा हुई। इस बीच कांग्रेस ने खेल एवं युवा कल्याण मंत्री विश्वास सारंग के खिलाफ विशेषाधिकार हनन पर चर्चा की मांग को लेकर जोरदार हंगामा किया। इस पर विधानसभा अध्यक्ष नरेंद्र सिंह तोमर ने कहा कि उन्हें सूचनाएं मिली हैं। इनका परीक्षण करने के बाद आगे का निर्णय लेंगे। विपक्ष चर्चा कराने की मांग पर अड़ा रहा। इसके चलते सदन में हंगामे की स्थिति बन गई।

इधर, टिमरनी से कांग्रेस विधायक अभिजीत शाह कंधे पर मूंग की बोरी लेकर नारेबाजी करते हुए विधानसभा पहुंचे। उन्होंने भाजपा पर किसान विरोधी सरकार होने का आरोप लगाया। कांग्रेस विधायक शाह ने कहा कि 16 क्विंटल प्रति हेक्टर खरीदी का नियम था, अब सरकार ने आठ क्विंटल प्रति हेक्टर खरीदी का नियम कर दिया है। ऐसे में किसान अपनी फसल कहा बेचेगा। मेरी मांग है कि सरकार नियम बदलकर पहले की तरह खरीदी करे। मैंने सदन में ध्यान आकर्षण भी लगाया था,लेकिन सदन ने स्वीकार नहीं किया।

सदन में उठा अवैध कालोनियों का मुद्दा

इससे पहले भाजपा विधायक हरदीप सिंह डंग ने अवैध कॉलोनियों को वैध करने का मामला उठाया। इसके जवाब में संसदीय कार्य मंत्री कैलाश विजयवर्गीय ने कहा, 'प्रदेश में एक नेक्सस काम कर रहा है। जिसको रोकने के लिए मुख्यमंत्री ने कड़े कानून बनाने के निर्देश दिए हैं। हम अवैध कॉलोनियों को वैध नहीं करेंगे, लेकिन जरूरी सुविधाओं का ध्यान रखेंगे। जल्द ही विधानसभा में अवैध कॉलोनियों को रोकने के लिए कड़े कानून लाए जाएं। अवैध कॉलोनियों को वैध नहीं कर रहे बल्कि अवैध कॉलोनियों में रह रहे लोगों को बेहतर सुविधाएं मिल सके इसके प्रयास किए जा रहे हैं।

वहीं कांग्रेस विधायक जयवर्धन सिंह ने बीआरटीएस की बसों को लेकर सवाल किया। लेकिन जवाब से वह संतुष्ट नहीं हुए। कांग्रेस विधायक ने कहा बीआटीएस कॉरिडोर में संचालित बीसीएलएल बस संचालन के लिए ठेकेदार को इंदौर में 5 करोड़ और भोपाल में 2 करोड़ की अतिरिक्त राशि दी गई। जबकि टेंडर की शर्तों में इसका प्रावधान नहीं था गड़बड़ी की गई है। इस पर मंत्री विजयवर्गीय ने जांच के आदेश देते हुए कहा कि प्रमुख सचिव मामले की जांच करेंगे, गड़बड़ी मिलने पर कार्रवाई की जाएगी। कांग्रेस विधायक फुंदेलाल मार्को ने सदन में सवाल पूछते हुआ कहा कि 2017 में अमरकंटक के लिए 23 करोड़ की नल जल योजना दी गई। लेकिन अब तक काम पूरा नहीं हुआ है। इस पर कैलाश विजयवर्गीय बोले- फॉरेस्ट एरिया आने के कारण परमिशन में समय लग रहा है।

प्रश्नकाल में विधायक दिनेश राय मुनमुन ने नागपुर हाईवे के घटिया निर्माण कार्य का मुद्दा उठाया। जवाब में मंत्री राकेश सिंह ने कहा किलखनादौन से सिवनी के बीच 9.2 किमी सड़क का ठेका हुआ था। ठेकेदार को नोटिस दिया गया, उसने काम पूरा नहीं किया। हाईवे रोड कार्पोरेशन ने इसे पूरा कराया। विधायक अजय अर्जुन सिंह ने इसे दो विधायकों के बीच का मामला बताते हुए मंत्री की मौजदूगी में समाधान करने की बात बोली।

विधानसभा में उच्च शिक्षा मंत्री इंदर सिंह परमार ने कहा कि यूनानी चिकित्सा पद्धति में पढ़ाई उर्दू से होती है, इसे हिंदी में भी पढ़ाया जाएगा। ध्यान आकर्षण में सीता शरण शर्मा ने उठाया मुद्दा।

नर्सिंग घोटाले पर मंत्री प्रह्लाद पटेल ने कहा कि सदन में नर्सिंग गड़बड़ी मामले पर पर्याप्त समय मिला। विपक्ष को आगे भी समय मिलेगा। लेकिन सिर्फ हंगामा करने से काम चलने वाला नहीं है। मुद्दों पर चर्चा करनी चाहिए। सरकार किसी भी मुद्दे से भाग नहीं रही है। बजट में किसी क्षेत्र में किसी जनप्रतिनिधि को कोई समस्या हो, मुझे आकर मिले। मैं व्यक्तिगत तौर पर उनकी मदद करूंगा।

हिन्दुस्थान समाचार/ नेहा/मुकेश

हमारे टेलीग्राम ग्रुप को ज्‍वाइन करने के लि‍ये  यहां क्‍लि‍क करें, साथ ही लेटेस्‍ट हि‍न्‍दी खबर और वाराणसी से जुड़ी जानकारी के लि‍ये हमारा ऐप डाउनलोड करने के लि‍ये  यहां क्लिक करें।

Share this story