मप्र : जीतू पटवारी का दलबदलू नेताओं पर कटाक्ष, बोले- ये मौकापरस्त लोग, जनता देख रही है

भोपाल, 16 मई (हि.स.)। कांग्रेस के प्रदेश अध्यक्ष जीतू पटवारी ने पार्टी को छोड़कर भाजपा में जाने वाले नेताओं पर निशाना साधा है। उन्होंने भाजपा पर इन नेताओं को भय और लालच देने का आरोप लगाया है। पटवारी ने कहा कि ये लोग मौकापरस्त है, जो इतने सालों से पार्टी में रहकर अब भाजपा के साथ चले गए हैं, लेकिन जनता इनको जवाब जरूर देगी। उन्होंने कहा कि इनमें से 22 नेता ऐसे भी जिनकी राजनीति अब खत्म होने की कगार पर है।

कांग्रेस प्रदेश अध्यक्ष ने गुरुवार को सोशल मीडिया एक्स पर लिखा कि सच्चाई सिर्फ यह है कि बीते 10 सालों में 35 कांग्रेसी विधायकों ने कांग्रेस छोड़कर भाजपा का दामन थामा, लेकिन उसमें से 22 नेताओं का सियासी सफर लगभग गुमनामी में चला गया है! ज्यादातर नेता या तो चुनाव हार गए या फिर उन्हें टिकट ही नहीं मिला. इन 35 नेताओं में फिलहाल 9 ही विधायक हैं और उनमें से भी केवल 4 ही मंत्री पद तक पहुंच पाए!

पटवारी ने भाजपा पर आरोप लगाते हुए लिखा कि भाजपा भय और लालच के दम पर विपक्ष को खत्म करना चाहती है! डरे हुए कुछ मौकापरस्त मन बदल भी रहे हैं! लेकिन, उनकी स्थिति जनता भी देख/समझ रही है! कभी मित्र, साथी, सहयोगी रहे ऐसे चेहरों के प्रति मेरी पूरी सहानुभूति है! यह दिली इच्छा भी है कि यदि वे राजनीति को जनसेवा का जरिया मानते हों, तो ईश्वर उनकी मदद करे!

गौरतलब है कि साल 2013 में मप्र की राजनीति में बडे़ सियासी दल-बदल की शुरुआत हुई और ये सिलसिला अभी तक जारी है। 2013 में विधानसभा में जब कांग्रेस सदन में सरकार के खिलाफ अविश्वास प्रस्ताव लेकर आई तो तत्कालीन उपनेता प्रतिपक्ष चौधरी राकेश सिंह ने बीजेपी का दामन थाम लिया। इसके बाद अविश्वास प्रस्ताव गिर गया। चौधरी राकेश सिंह से लेकर अब तक करीब 35 विधायक बीजेपी जॉइन कर चुके हैं। इनमें सिर्फ 9 लोग वर्तमान में विधायक और 4 राज्य सरकार में मंत्री हैं।

हिन्दुस्थान समाचार / उमेद/मुकेश

हमारे टेलीग्राम ग्रुप को ज्‍वाइन करने के लि‍ये  यहां क्‍लि‍क करें, साथ ही लेटेस्‍ट हि‍न्‍दी खबर और वाराणसी से जुड़ी जानकारी के लि‍ये हमारा ऐप डाउनलोड करने के लि‍ये  यहां क्लिक करें।

Share this story