मध्यप्रदेश में 20 जून के आसपास मानसून देगा दस्तक, अच्छी बारिश होने के संकेत

भोपाल, 16 मई (हि.स.) । मध्यप्रदेश में 20 जून के आसपास मानसून दस्तक दे सकता है । भारतीय मौसम विभाग ने 31 मई को केरल में मानसून के पहुंचने की संभावना जताई है। साथ ही मध्यप्रदेश में यह 16 से 21 जून के बीच एंट्री करेगा। पिछली बार पूर्वी हिस्से यानी, अनूपपुर, मंडला, बालाघाट, सिवनी की तरफ से एंटर हुआ था। इस बार भी यही संभावना जताई जा रही है। इसी दौरान इसके राजधानी भोपाल पहुंचने के आसार हैं। इससे दो दिन पहले इसके मध्यप्रदेश में दाखिल होने के आसार है।

मौसम विभाग ने बताया कि वैसे केरल में मानसून आने की सामान्य तारीख 1 जून है, लेकिन इस बार 31 मई को मानसून केरल पहुंच सकता है। हालांकि घोषित तारीख में 4 दिन कम या ज्यादा होने की गुंजाइश हो सकती है। यानी मानसून 28 मई से 3 जून के बीच कभी भी आ सकता है। विभाग का कहना है कि इस बार मध्यप्रदेश में अच्छी बारिश होने के भी संकेत है। मई में जून से सितंबर यानी चार महीने तक प्रदेश में 104 से 106 फीसदी तक बारिश होने का अनुमान जताया है। यह सामान्य से 4 से 6 फीसदी ज्यादा है। इससे पहले, साल 2023 में प्रदेश में 100% यानी, एवरेज 37 इंच से ज्यादा बारिश हुई थी।

गौरतलब है कि मध्यप्रदेश में मानसून की दस्तक की सामान्य तारीख 15 जून है। 2023 में 24 जून को प्रदेश में मानसून का प्रवेश हुआ था। इससे पहले साल 2017, 2018 और 2019 यानी लगातार 3 साल तक मानसून देरी से मध्यप्रदेश में पहुंचा था। मौसम विभाग की रिपोर्ट बताती है कि पूर्वी मध्यप्रदेश के 4 संभाग- सागर, रीवा, जबलपुर और शहडोल में सामान्य से कम 98 से 99% बारिश हो सकती है। वहीं, पश्चिमी मध्यप्रदेश के 6 संभाग- भोपाल, नर्मदापुरम, इंदौर, उज्जैन, ग्वालियर और चंबल में 101 से 102% या इससे अधिक बारिश होने का पूर्वानुमान है।

हिन्दुस्थान समाचार / उमेद/मयंक

हमारे टेलीग्राम ग्रुप को ज्‍वाइन करने के लि‍ये  यहां क्‍लि‍क करें, साथ ही लेटेस्‍ट हि‍न्‍दी खबर और वाराणसी से जुड़ी जानकारी के लि‍ये हमारा ऐप डाउनलोड करने के लि‍ये  यहां क्लिक करें।

Share this story