उज्जैनः धोखाधड़ी के मामले में निरंजनी अखाड़े से निष्कासित महामंडलेश्वर मंदाकिनी पुरी गिरफ्तार

उज्जैनः धोखाधड़ी के मामले में निरंजनी अखाड़े से निष्कासित महामंडलेश्वर मंदाकिनी पुरी गिरफ्तार
उज्जैनः धोखाधड़ी के मामले में निरंजनी अखाड़े से निष्कासित महामंडलेश्वर मंदाकिनी पुरी गिरफ्तार


उज्जैन, 14 मई (हि.स.)। जयपुर के एक महामंडलेश्वर को आचार्य महामंडलेश्वर बनाने के नाम पर 8.92 लाख रुपये की ठगी करने वाली पूर्व महामंडलेश्वर मंदाकिनी पुरी उर्फ ममता जोशी को पुलिस ने गिरफ्तार कर लिया है। धोखाधड़ी के आरोप लगने के बाद गत सात मई को उन्हें निरंजनी अखाड़े से निष्कासित कर दिया गया था, जिसके बाद उन्होंने कीटनाशक पीकर आत्महत्या का प्रयास किया था। इसके बाद उनका अस्पताल में उपचार चल रहा था। अस्पताल में वे किसी को पहचान नहीं पा रही थीं। इस कारण पुलिस ने उनके बयान नहीं ले सकी थी। मंगलवार को अस्पताल से डिस्चार्ज होने के बाद ही चिमनगंज मंडी थाना पुलिस ने उन्हें गिरफ्तार कर लिया है।

गौरतलब है कि महंत सुरेश्वरानंद गिरी की शिकायत पर चिमनगंज थाना पुलिस ने मंदाकिनी पुरी और उसके सहयोगी अश्विनी चौधरी पर धोखाधड़ी का केस दर्ज किया था। दोनों पर आरोप है कि उन्होंने सुरेश्वरानंद गिरि को महामंडलेश्वर की उपाधि दिलाने के लिए 8.92 लाख रुपये लिए। महंत को न तो कोई उपाधि मिली और न ही राशि अखाड़े के मुख्यालय तक पहुंची। महंत ने निरंजनी अखाड़े में पता किया तो वहां से जानकारी लगी कि महामंडलेश्वर बनाने के लिए कोई राशि नहीं ली जाती है और न ही महंत के नाम पर कोई निर्णय लिया गया है। इसके बाद छह मई की रात उज्जैन के चिमनगंज थाने में धोखाधड़ी का केस दर्ज कराया था। मामला सामने आने के बाद मंदाकिनी को अखाड़े से निष्कासित कर दिया गया। इसकी जानकारी लगने के बाद मंदाकिनी पुरी ने फिनाइल पी लिया था, जिसके बाद उन्हें अस्पताल में भर्ती करवाया गया था।

इसके बाद 10 मई को जयपुर के महामंडलेश्वर नर्मदाशंकर ने महाकाल थाने में शिकायत दर्ज कराई। उनका आरोप था कि मंदाकिनी ने आचार्य महामंडलेश्वर बनाने का झांसा देकर आठ लाख 90 हजार रुपये लिए थे। ये राशि उन्होंने पिछले सात महीने में अलग-अलग किश्तों में ऑनलाइन ट्रांसफर की थी।

हिन्दुस्थान समाचार / मुकेश / उमेद

हमारे टेलीग्राम ग्रुप को ज्‍वाइन करने के लि‍ये  यहां क्‍लि‍क करें, साथ ही लेटेस्‍ट हि‍न्‍दी खबर और वाराणसी से जुड़ी जानकारी के लि‍ये हमारा ऐप डाउनलोड करने के लि‍ये  यहां क्लिक करें।

Share this story