ग्वालियर: उत्तरी हवाओं से गिरा तापमान, पांच को बूंदाबांदी के आसार

ग्वालियर, 02 अप्रैल (हि.स.)। उत्तर से आ रहीं हवाओं की वजह से पिछले चार दिन से अधिकतम तापमान में लगातार गिरावट हो रही है। हालांकि मौसम विभाग ने अगले दो दिन में अधिकतम तापमान में दो से तीन डिग्री सेल्सियस की वृद्धि की संभावना जताई है। मौसम विभाग के अनुसार पांच अप्रैल को बादल छाने के साथ बूंदाबांदी भी हो सकती है।

यहां बता दें कि 29 मार्च को अधिकतम तापमान 39.6 डिग्री सेल्सियस पर पहुंच गया था। इसी दिन शाम को हुई बूंदाबांदी और अगले दिन से मौसम शुष्क होने से अधिकतम तापमान में लगातार गिरावट दर्ज की जा रही है। चूंकि इन दिनों हवाएं उत्तर से आ रही हैं। इसी कारण सूरज के तेवर कुछ नरम बने हुए हैं। स्थानीय मौसम विज्ञानी हुकुम सिंह ने बताया कि इस समय पश्चिमी हिमालय से एक पश्चिमी विक्षोभ गुजर रहा है। मराठवाड़ा एवं विदर्भ से एक द्रोणिका लाइन भी गुजर रही है। इन दोनों मौसम प्रणालियों का प्रभाव से मंगलवार शाम को आसमान में बादल देखे गए लेकिन बारिश की संभावना कम है। उन्होंने बताया कि पांच अप्रैल को पश्चिमी हिमालय में एक और ताजा पश्चिमी विक्षोभ आने की संभावना है। इसका प्रभाव ग्वालियर सहित आसपास के जिलों में भी नजर आ सकता है। इस मौसम प्रणाली के प्रभाव से बादल छाने के साथ कहीं-कहीं बूंदाबांदी भी हो सकती है।

स्थानीय मौसम विज्ञान केन्द्र के अनुसार पिछले दिन की तुलना में मंगलवार को अधिकतम तापमान 1.0 डिग्री सेल्सियस गिरावट के साथ 35.8 डिग्री सेल्सियस दर्ज किया गया जो औसत से 1.1 डिग्री सेल्सियस कम है जबकि न्यूनतम तापमान 3.0 डिग्री सेल्सियस गिरावट के साथ 18.7 डिग्री सेल्सियस दर्ज किया गया जो औसत से 0.5 डिग्री सेल्सियस कम है।

हिन्दुस्थान समाचार/शरद

हमारे टेलीग्राम ग्रुप को ज्‍वाइन करने के लि‍ये  यहां क्‍लि‍क करें, साथ ही लेटेस्‍ट हि‍न्‍दी खबर और वाराणसी से जुड़ी जानकारी के लि‍ये हमारा ऐप डाउनलोड करने के लि‍ये  यहां क्लिक करें।

Share this story