ग्वालियर: सेवानिवृत्त फौजी ने चलाई ताबड़तोड़ गोलियां, चार घायल, एक की हालत नाजुक

ग्वालियर: सेवानिवृत्त फौजी ने चलाई ताबड़तोड़ गोलियां, चार घायल, एक की हालत नाजुक
ग्वालियर: सेवानिवृत्त फौजी ने चलाई ताबड़तोड़ गोलियां, चार घायल, एक की हालत नाजुक


ग्वालियर: सेवानिवृत्त फौजी ने चलाई ताबड़तोड़ गोलियां, चार घायल, एक की हालत नाजुक


ग्वालियर: सेवानिवृत्त फौजी ने चलाई ताबड़तोड़ गोलियां, चार घायल, एक की हालत नाजुक


ग्वालियर: सेवानिवृत्त फौजी ने चलाई ताबड़तोड़ गोलियां, चार घायल, एक की हालत नाजुक


- तीनों आरोपियों को दबोचा, एसपी ने घटनास्थल का किया निरीक्षण

ग्वालियर, 13 मई (हि.स.)। महाराजपुरा थाना क्षेत्र में सनकी सेवानिवृत्त फौजी और उसके साथी ने सोमवार सुबह पड़ोसी परिवार को निशाना बनाकर ताबड़तोड़ गोलियां चला दीं। गोली लगने से दो भाई और दो महिलाएं घायल हो गईं। गोली लगने से घायल एक भाई की हालत नाजुक बनी हुई है। सनसनीखेज अंदाज में हुए गोलीेकांड की सूचना मिलते ही स्वयं पुलिस अधीक्षक धर्मवीर सिंह मौके पर पहुंच गए। पुलिस ने दबिश देकर तीनों आरोपियों को गिरफ्तार कर लिया है।

ग्राम रसूलपुर जीईसी महाविद्यालय के पास रहने वाला धर्मवीर पुत्र गेंदालाल जाटव 42 वर्ष सुबह छह बजे के करीब दुकान पर चाय पत्ती लेने गया था। जब वह चायपत्ती लेकर घर लौट रहा था रास्ते में पड़ोसी सेवानिवृत्त फौजी यशवीर सिंह भदौरिया उसके पिता व साथी रंजीत बाल्मीक ने रास्ता रोक लिया। तीनों लोगों ने धर्मवीर को गाली गलौच करते हुए पिस्टल से गोली मार दी। गोली चलते ही धर्मवीर घर की ओर भागा। तभी धर्मवीर का बड़ा भाई राजवीर जाटव 45 वर्ष घर से बाहर निकला आया और छोटे भाई पर गोली चलते देख वह उसे बचाने दौड़ा।

सनकी फौजी ने पिस्टल से राजवीर पर भी गोलियां चला दीं। राजवीर के छाती में गोली लगने से वह जमीन पर गिर पड़ा। जबकि धर्मवीर के पेट में गोली लगने के बाद पार निकल गई। दोनों भाईयों को गोली मारने के बाद भी हमलवार रुके नहीं और धर्मवीर की पत्नी मीना को निशाना बनाकर गोली मार दी। मीना के हाथ में गोली लगने से वह घायल हो गई। राजवीर के छोटे भाई अजय की पत्नी संजना भी गोली लगने से घायल हुई है। उसके पैर में गोली लगी है। ताबड़तोड़ गोलियां चलाने के बाद तीनों आरोपी मौके से फरार हो गए। रसूलपुर गांव में लोग दहशत के कारण घरों में छिप गए।

चार लोगों के गोली लगने की सूचना मिलने पर पुलिस अधीक्षक धर्मवीर सिंह और एएसपी अपराध शाखा षियाज केएम मौके पर पहुंच गए। अपराध शाखा की टीम ने दबिश देकर रंजीत बाल्मीक, यशवीर भदौरिया और उसके पिता को गिरफ्तार कर लिया है। पुलिस ने मौके से पिस्टल के पांच खाली कारतूस भी बटोरे हैं। पिस्टल लायसेंसी बताई जा रही है। पुलिस ने उक्त पिस्टल को भी बरामद कर लिया है। पुलिस ने फरियादी की शिकायत पर आरोपियों के खिलाफ धारा 307, 323, 294, 506, 34 के तहत प्राथमिकी दर्ज कर ली है।

बिजली का तार डालने को लेकर हुआ विवाद: रात को बिजली का तार डालने को लेकर राजवीर के परिवार से विवाद हो गया था। उस समय लोग आ गए और दोनों पक्षों को समझाकर झगड़ा शांत करा दिया। यशवीर रात मे ही हंगामा कर रहा था लेकिन राजवीर के परिवार को यह अंदेशा नहीं था कि वह सुबह गोलियां चला देगा।

हिन्दुस्थान समाचार/शरद/मुकेश

हमारे टेलीग्राम ग्रुप को ज्‍वाइन करने के लि‍ये  यहां क्‍लि‍क करें, साथ ही लेटेस्‍ट हि‍न्‍दी खबर और वाराणसी से जुड़ी जानकारी के लि‍ये हमारा ऐप डाउनलोड करने के लि‍ये  यहां क्लिक करें।

Share this story