उज्जैन: आदर्श आचार संहिता के चलते गाईड लाइन की समयावधि बढ़ाई

उज्जैन,01अप्रेल(हि. स.)। पंजीयन एवं मुद्रांक विभाग के अन्तर्गत माह मार्च-2024 में लगभग 9200 दस्तावेज पंजीबद्ध हुए, जिसमें कुल 66.50 करोड़ रुपये की आय प्राप्त हुई है। सम्पूर्ण वित्तीय वर्ष 2023-24 में 460 करोड़ रुपये का लक्ष्य दिया गया था। इसके विरूद्ध 452.51 करोड़ रुपये की आय प्राप्त हुई, जो लक्ष्य का 98.37 प्रतिशत है। महानिरीक्षक पंजीयन एवं अधीक्षक मुद्रांक के आदेशानुसार लोकसभा चुनाव आदर्श आचार संहिता के प्रभावी होने से वर्ष 2023-24 की प्रभावी बाजार मूल्य गाईड लाइन की समयावधि आगामी आदेश तक बढ़ा दी गई हैं ।

वरिष्ठ जिला पंजीयक ने बताया कि वित्तीय वर्ष में कुल पंजीबद्ध दस्तावेजों की संख्या लगभग 76 हजार 753 है, जिसमें विक्रय-पत्रों की संख्या लगभग 49 हजार है, जबकि गत वर्ष में कुल दस्तावेजों की संख्या 67201 थी, जिनमें विक्रय-पत्रों की संख्या 42952 है। इस वित्तीय वर्ष में प्राप्त आय 452.51 करोड़ रुपये है, जबकि गत वर्ष 396.68 करोड़ रुपये थी, जो गत वर्ष से 55.83 करोड़ होकर लगभग 15 प्रतिशत अधिक है।

हिंदुस्थान समाचार/ललित ज्वेल

हमारे टेलीग्राम ग्रुप को ज्‍वाइन करने के लि‍ये  यहां क्‍लि‍क करें, साथ ही लेटेस्‍ट हि‍न्‍दी खबर और वाराणसी से जुड़ी जानकारी के लि‍ये हमारा ऐप डाउनलोड करने के लि‍ये  यहां क्लिक करें।

Share this story