मप्रः आर्थिक विकास एवं रोजगार सृजन पर परिचर्चा हुई

- नीति आयोग, योजना आर्थिक सांख्यिकी एवं एग्पा के अधिकारी हुए शामिल

भोपाल, 13 फरवरी (हि.स.)। योजना आर्थिक एवं सांख्यिकी विभाग, मध्यप्रदेश राज्य नीति आयोग की भारत सरकार के प्रतिनिधियों साथ मंगलवार को 'आर्थिक विकास एवं रोजगार सृजन' विषय पर परिचर्चा हुई। अटल विहारी वाजपेयी सुशासन एवं नीति विश्लेषण संस्थान भोपाल में मंगलवार को हुई एक दिवसीय परिचर्चा में नीति आयोग के सदस्य वीके सारस्वत, वरिष्ठ सलाहकार इश्तियाक अहमद, प्रमुख सचिव योजना एवं सांख्यिकी मुकेश गुप्ता शामिल हुए। परिचर्चा में आर्थिक सामाजिक विकास के रोडमैप पर विचार प्रस्तुत किये गये।

परिचर्चा में मध्यप्रदेश को आर्थिक वृद्धि एवं समावेशी विकास की ओर अग्रसर होने के लिये विभिन्न बिन्दुओं पर सुझाव दिये गये। प्रमुख रूप से कृषि क्षेत्र में फसल विविधिकरण और ड्रोन आधारित कृषि जैसी नवीन तकनीक का प्रयोग, विनिर्माण क्षेत्र के विकास के लिये स्टार्ट-अप, नवाचारों सामाजिक क्षेत्र में स्वास्थ्य और शिक्षा को भी विकास के नवीन आयामों, एआई, शोध और नवाचार के प्रयोग से अद्यतन और गुणवत्तापूर्ण बनाने के सुझाव दिये गये। परिचर्चा में रोजगार सृजन आधारित आर्थिक विकास के लिये प्रदेश की उच्च शिक्षा को तकनीकी एवं कौशल विकास के सभी प्रतिमानों एवं आयामों से एकीकृत करने पर चर्चा हुई। उच्च शिक्षा को नवीन शिक्षा नीति 2020 के अनुरूप गुणवत्तापूर्ण बनाने और आवश्यकता आधारित रोजगार सृजन में आवश्यक मदद मिलेगी।

परिचर्चा में मुख्य कार्यपालन अधिकारी बीएस जामोद, सचिव शिल्पा गुप्ता, एग्पा के सीईओ लोकेश शर्मा, एम्स भोपाल के निदेशक, वन प्रबंधन संस्थान निजी विश्वविद्यालय एवं अन्य राष्ट्रीय महत्व के संस्थानों के प्रतिनिधि शामिल हुए।

हिन्दुस्थान समाचार / मुकेश

हमारे टेलीग्राम ग्रुप को ज्‍वाइन करने के लि‍ये  यहां क्‍लि‍क करें, साथ ही लेटेस्‍ट हि‍न्‍दी खबर और वाराणसी से जुड़ी जानकारी के लि‍ये हमारा ऐप डाउनलोड करने के लि‍ये  यहां क्लिक करें।

Share this story