कांग्रेस को यूपी 80 प्रत्याशी नहीं मिले और राहुल गांधी देख रहे प्रधानमंत्री बनने के सपनेः डॉ. मोहन यादव

कांग्रेस को यूपी 80 प्रत्याशी नहीं मिले और राहुल गांधी देख रहे प्रधानमंत्री बनने के सपनेः डॉ. मोहन यादव
कांग्रेस को यूपी 80 प्रत्याशी नहीं मिले और राहुल गांधी देख रहे प्रधानमंत्री बनने के सपनेः डॉ. मोहन यादव


कांग्रेस को यूपी 80 प्रत्याशी नहीं मिले और राहुल गांधी देख रहे प्रधानमंत्री बनने के सपनेः डॉ. मोहन यादव


कांग्रेस को यूपी 80 प्रत्याशी नहीं मिले और राहुल गांधी देख रहे प्रधानमंत्री बनने के सपनेः डॉ. मोहन यादव


- राहुल गांधी में हिम्मत है तो दिल्ली से चुनाव लड़कर बताएं: मुख्यमंत्री डॉ. यादव

भोपाल, 15 मई (हि.स.)। मध्य प्रदेश के मुख्यमंत्री डॉ. मोहन यादव ने बुधवार देर शाम पश्चिम दिल्ली एवं उत्तर पश्चिम दिल्ली से भाजपा उम्मीदवारों के समर्थन में आयोजित जनसभाओं को संबोधित करते हुए कहा कि कांग्रेस पार्टी को उत्तरप्रदेश से चुनाव लड़ने के लिए 80 उम्मीदवार नहीं मिले और राहुल गांधी प्रधानमंत्री बनने का सपना देख रहे हैं। राहुल गांधी में हिम्मत है तो वे दिल्ली से चुनाव लड़कर बताएं।

देश में माहौल एक अलग ही दिशा में जा रहा है

उन्होंने कहा कि इस समय पूरे देश में प्रधानमंत्री मोदी एवं भगवान श्रीराम की जय-जयकार हो रही है। पूरे देश का माहौल एक अलग ही दिशा में जा रहा है। घमंडिया गठबंधन के सारे घमंडियों का घमंड भी जमीन पर आ रहा है। अबकी बार-400 पार का संकल्प हर हाल में पूरा होगा। इसे कोई नहीं रोक सकता है। एक तरफ राहुल गांधी प्रधानमंत्री बनने का सपना देख रहे हैं, लेकिन उन्हें उत्तरप्रदेश में चुनाव लड़ने के लिए 80 उम्मीदवार नहीं मिले।

देश का लोकतंत्र सुरक्षित हाथों में है

मुख्यमंत्री डॉ. यादव ने कहा कि आज भारत देश का लोकतंत्र सबसे सुरक्षित हाथों में है। जिस प्रकार से कांग्रेस पार्टी और राहुल गांधी लोकतंत्र को लेकर बातें कर रहे हैं उससे साफ जाहिर है कि वे भयभीत हैं। वे कह रहे हैं कि मोदीजी आ जाएंगे तो संविधान बदल देंगे, लेकिन उन्हें यह नहीं दिखता कि नरेन्द्र मोदी 10 साल से प्रधानमंत्री हैं। देश का लोकतंत्र सबसे सुरक्षित हाथों में है। आज देश का हर क्षेत्र में विकास हुआ है। हर क्षेत्र में भारत की जय-जयकार हुई है। देश का मान-सम्मान दुनिया में बढ़ा है।

पाकिस्तान को उसके घर में घुसकर मारा

डॉ. यादव ने कहा कि पहले दिल्ली में कहीं भी बम विस्फोट हो जाते थे। साइकिल पर बम फूट जाते थे, लेकिन अब तो स्थिति यह है कि भारत में कहीं पटाखा भी फूटे तो पाकिस्तान कहता है कि हमने नहीं फोड़ा है। पाकिस्तान ने एक बार गलती कर दी थी। बालाकोट में उसने हमारे सैनिकों पर हमला किया था, लेकिन उसके बाद पाकिस्तान को घर में घुसकर दो-दो सबब सिखाया है। अब पाकिस्तान भूलकर भी भारत की तरफ आंख उठाकर नहीं देखता है, क्योंकि उसको पता है कि गलती से आंख उठाई तो उसको इसकी सजा भुगतनी पड़ेगी।

हिन्दुस्थान समाचार / मुकेश

हमारे टेलीग्राम ग्रुप को ज्‍वाइन करने के लि‍ये  यहां क्‍लि‍क करें, साथ ही लेटेस्‍ट हि‍न्‍दी खबर और वाराणसी से जुड़ी जानकारी के लि‍ये हमारा ऐप डाउनलोड करने के लि‍ये  यहां क्लिक करें।

Share this story