उज्जैन: दंपत्ति ने की ठगी,साख समिति में गबन, साईबर फ्रॉड

उज्जैन,13फरवरी(हि. स.)। तिरूपति डायमंड कॉलोनी में किराये से रहने वाले दंपति ने आसपास के लोगों को कंस्ट्रक्शन कंपनियों और इंदौर किराना होलसेल मार्केट में इन्वेस्ट कर चार से पांच गुना मुनाफा कमाने का लालच देकर लाखों का चूना लगाया और भाग गये। नीलगंगा पुलिस ने जांच के बाद दंपत्ति के खिलाफ धारा 420 का केस दर्ज किया है।

पुलिस ने बताया कि शैलेन्द्र पिता कमलकिशोर माडलिक, राकेश पिता कैलाशचंद्र वाजपेयी निवासी तिरूपति डायमंड कॉलोनी, रवि पिता नारायण पांचाल निवासी तिरूपति प्लेटिनम कॉलोनी दाऊदखेड़ी के साथ मनीष भाटिया पिता लक्ष्मणदास भाटिया निवासी लीलाशाह कॉलोनी अब्दालपुरा हालमुकाम तिरूपति डायमंड कॉलोनी और उसकी पत्नी लीला भाटिया ने लाखों रुपये की धोखाधड़ी की।

मनीष और उसकी पत्नी ने मिलकर उक्त लोगों को कंस्ट्रक्शन कंपनियों व इंदौर के होलसेल किराना बाजार में इन्वेस्ट कर दो से चार गुना मुनाफा कमाने का लालच दिया और सभी लोगों से रुपये लेकर जमानत के तौर पर चेक सौंप दिये। पुलिस ने बताया कि दंपत्ति ने शैलेन्द्र माडलिक से 13 लाख 50 हजार रुपये, राकेश वाजपेयी से 12 लाख 80 हजार रुपये, रवि पांचाल से 6 लाख 80 हजार रुपये लिये और 1 जनवरी 2024 को घर पर ताला लगाकर भाग गये। उनके मोबाईल नंबर पर संपर्क का प्रयास किया लेकिन मोबाइल भी स्विच ऑफ आ रहा था। मनीष और लीला की जानकारी नहीं मिलने पर उक्त लोगों ने नीलगंगा थाने में शिकायती आवेदन दिया जिसकी जांच के बाद पुलिस ने दंपत्ति के खिलाफ धोखाधड़ी का केस दर्ज किया है।

हिंदुस्थान समाचार/ललित ज्वेल

0000000

सहकारी साख संस्था ने किया खाताधारकों के लाखों का गबन

उज्जैन,13फरवरी(हि. स.)। गुदरी बाजार स्थित न्यू अवंतिका सहकारी साख संस्था के अध्यक्ष, उपाध्यक्ष व कर्मचारी ने मिलकर खाताधारकों के लाखों रुपयों का गबन किया और संस्था में ताला लगा दिया। महाकाल पुलिस ने खाता धारकों की रिपोर्ट पर अमानत में खयानत का केस दर्ज किया है।

पुलिस ने बताया कि आसमां बी पति बशीर खान 35 वर्ष निवासी मिल्कीपुरा कोतवाली के पीछे ने न्यू अवंतिका सहकारी साख संस्था गुदरी बाजार में वर्ष 2016 में 500 रुपये जमा कर खाता खुलवाया और बाद में संस्था के अध्यक्ष आदिल खान, उपाध्यक्ष अंजुम बी व कर्मचारी मो. साकीर के कहने पर 6 लाख से अधिक की एफडी कराई थी। उस दौरान अध्यक्ष आदिल खान ने एफडी पर अधिक ब्याज का लालच दिया था। एफडी की समयावधि पूरी होने पर आसमां बी रुपये लेने संस्था में गई तो आदिल व अंजुम बी ने दो माह बाद आने को कहा और बाद में संस्था बंद हो गई। आसमां ने पुलिस को बताया कि संस्था के खाताधारकों द्वारा रुपये वापस लौटाने का दबाव बनाया तो मो. साकीर ने 14 जनवरी 2018 को जहर खाकर आत्महत्या कर ली थी। इधर थाने में अफसाना बी, सलीम, जुलेखा, तस्लीम ने भी संस्था के खिलाफ धोखाधड़ी की शिकायत की जिसकी जांच के बाद पुलिस ने संस्था के अध्यक्ष, उपाध्यक्ष व कर्मचारी के खिलाफ अमानत में खयानत का केस दर्ज किया है।

हिंदुस्थान समाचार/ललित ज्वेल

000000

सायबर फ्राड… आईटी सेल ने रिकवर किए 40500 रुपए

उज्जैन,13फरवरी(हि. स.)। सायबर फ्राड के शिकार दो लोगों को उनकी राशि फिर से मिली गई है। ऑनलाइन ठगी के 40500 रु. पुलिस आईटी सेल के प्रयास से रिकार हुए हंै। ऑनलाइन गेमिंग के चक्कर में पड़े दो लोगों के खातों से राशि निकाल ली गई थी। पीडि़तों ने इसकी शिकायत पुलिस आईटी सेल में की। सेल ने कार्यवाही करते हुए गेमिंग के चक्कर में ट्रांसफर हुई राशि वापस दिलवा दी। सायबर हेल्पलाइन नंबर पर शिकायत के बाद मर्चेन्ट/गेटवे के नोडल अकाउंट पर दोनों की राशि होल्ड करा दी गई। आईटी सेल ने द्वारा समन्वय स्थापित कर राशि रिफंड करवा दी। इसमें आईटी सेल उज्जैन के राम बाजपेई, प्रिंस छाबडा, नितिन सिसोदिया, सूर्यांशी चौहान, रागिनी पाण्डेय, पूजा परमार की महत्वपूर्ण भूमिका रही।

एप डाउनलोड किया और राशि खाते से ट्रांसफर: उज्जैन आईटी सेल के अनुसार अमजद खान पिता हुसैन निवासी दिलदार पुरा महिदपुर सिटी जिला उज्जैन का फ्रेबिकेशऩ का काम करते है। अमजद के मोबाईल में उनके भाई द्वारा ऑनलाइन गेम खेलने के लिये एक गेमिंग एप डाउन लोड किया गया था। इसके बाद अमजद के बैक खाते से 27 जुलाई 2023 को एक ही दिन में 40,000 रुपये ऑनलाइन ट्रांसफर हो गए थे।

खाते से राशि निकलने का पता अगले दिन चला। इसके बाद अमजद ने सायबर हेल्प लाइन नंबर 1930 पर शिकायत दर्ज कराने के साथ आईटी सेल को घटना की जानकारी दी। इसी तरह मेहरबान यादव पिता भरतलाल निवासी बडनगर ने मोबाइल में ऑनलाईन गेमिंग एप डाउन लोड किया गया था। इसके बाद शिकायतकर्ता के बैक खाते से 500 रु. ऑनलाइन ट्रांसफर हो गये थे। मेहरबान ने भी घटना की शिकायत आईटी सेल में की थी।

हिंदुस्थान समाचार/ललित ज्वेल

हमारे टेलीग्राम ग्रुप को ज्‍वाइन करने के लि‍ये  यहां क्‍लि‍क करें, साथ ही लेटेस्‍ट हि‍न्‍दी खबर और वाराणसी से जुड़ी जानकारी के लि‍ये हमारा ऐप डाउनलोड करने के लि‍ये  यहां क्लिक करें।

Share this story