योग क्रिया में सांस क्रियाओं का बडा महत्व है: योग गुरू जैन

योग क्रिया में सांस क्रियाओं का बडा महत्व है: योग गुरू जैन
योग क्रिया में सांस क्रियाओं का बडा महत्व है: योग गुरू जैन


मन्दसौर, 15 मई (हि.स.)। दशपुर योग शिक्षा संस्थान, मंदसौर द्वारा बच्चों के शारीरिक एवं मानसिक विकास हेतु आयोजित छह दिवसीय नि:शुल्क योग शिविर के द्वितीय दिवस बुधवार को रोटरी क्लब मंदसौर ने भी उपस्थित होकर बच्चों का उत्साहवर्धन किया। इस शिविर में 60 बच्चे योग क्रियाओं और उसके लाभों के बारे में शिक्षा ले रहे हैं।

शिविर में योग गुरु सुरेन्द्र जैन ने कहा कि सांस हर व्यक्ति लेता है, लेकिन उसे लेने का सही तरीका कम लोगों को ही पता है। इसका सही तरीका है जब सांस लें तो पेट फूले और जब छोड़ें तो पेट पिचके। सांस का आवागमन यदि व्यवस्थित हो जाए तो व्यक्ति कई बीमारियों से मुक्त रह सकता है। शरीर में जितनी देर आॅक्सीजन रहेगी, हमें ऊर्जा का अहसास होगा। आपने कपालभाति प्राणायाम के माध्यम से साँस लेने की तरीके बताये। शिविर में बच्चों को ध्यान, योग व प्राणायाम के जरिए स्वस्थ रहने व जीवन में एक नई स्फूर्ति का संचार करना का तरीका सिखाया गया।

बच्चों को पौस्टिक लस्सी एवं बिस्किट का वितरण रोटरी क्लब द्वारा किया गया। शिविर में ओम गर्ग, विजय पलोड़, जितेश फरक्या, जिनेन्द्र उकावत, महेश सेठिया, नेहा गांधी, सुभाष पाटीदार, अनुराग माली, शोकीन धाकड़, शौंकी कश्यप आदि ने दी।

हिन्दुस्थान समाचार/ अशोक झलौया/मुकेश

हमारे टेलीग्राम ग्रुप को ज्‍वाइन करने के लि‍ये  यहां क्‍लि‍क करें, साथ ही लेटेस्‍ट हि‍न्‍दी खबर और वाराणसी से जुड़ी जानकारी के लि‍ये हमारा ऐप डाउनलोड करने के लि‍ये  यहां क्लिक करें।

Share this story