लोकायुक्त की बड़ी कार्रवाई, पशुपालन विभाग के उप संचालक काे रिश्वत लेते रंगे हाथों पकड़ा

मुरैना, 2 अप्रैल (हि.स.)। ग्वालियर लोकायुक्त ने बड़ी कार्रवाई को अंजाम देते हुए मुरैना पशुपालन व चिकित्सा विभाग में पदस्थ उपसंचालक को रिश्वत लेते हुए रंगे हाथों गिरफ्तार किया है। आरोपित उपसंचालक द्वारा रिश्वत की राशि अपने ही विभाग के लेब तकनीशियन द्वारा आचार्य विद्यासागर गौसंवर्धन योजना के तहत मिलने वाली राशि के एवज में मांगी गई थी। लोकायुक्त द्वारा नियम अनुसार आगे की कार्रवाई की जा रही है।

जानकारी अनुसार मुरैना पशु पालन व चिकित्सा विभाग के उप संचालक आरपीएस भदौरिया को ग्वालियर लोकायुक्त की टीम ने रिश्वत लेते हुए रंगे हाथों पकड़ा है। खास बात यह है कि उप संचालक अपने ही विभाग के लेब टेक्निीशियन से रिश्वत ले रहे थे। दरअसल पशु पालन विभाग में आचार्य विद्यासागर गौसंवर्धन योजना के तहत मिलने वाली राशि के लिए विभाग के लेब तकनीशियन सतेंद्र मावई ने भी आवेदन किया था। राशि के एवज में उपसंचालक भदौरिया ने कर्मचारी से 15 हजार की रिश्वत मांगी। भदौरिया ने साथ ही पहले 7 हजार रुपए ले भी लिए। रिश्वत की यह दूसरी किश्त थी। परेशान होकर फरियादी सतेंद्र मावई ने लोकायुक्त से शिकायत कर दी। लोकायुक्त ने मामला दर्ज कर आरपीएस भदौरिया को रंगे हाथों पकड़ने के लिए प्लान बनाया। लाेकायुक्त टीम ने मंगलवार को दूसरी किस्त के तीन हजार रुपये लेकर सतेंद्र मावई उप संचालक कार्यालय में आरपीएस भदौरिया के पास भेजा। जैसे ही उन्होंने तीन हजार रुपए लिए, वैसे ही लोकायुक्त टीम ने उन्हें दबोच लिया।

हिन्दुस्थान समाचार/ नेहा / उमेद

हमारे टेलीग्राम ग्रुप को ज्‍वाइन करने के लि‍ये  यहां क्‍लि‍क करें, साथ ही लेटेस्‍ट हि‍न्‍दी खबर और वाराणसी से जुड़ी जानकारी के लि‍ये हमारा ऐप डाउनलोड करने के लि‍ये  यहां क्लिक करें।

Share this story