(अपडेट) अनूपपुर: गाय को बचाने में पलटा ऑटो, फिर 100 मीटर तक ट्रेलर ने घसीटा, 4 लोगों की मौत

(अपडेट) अनूपपुर: गाय को बचाने में पलटा ऑटो, फिर 100 मीटर तक ट्रेलर ने घसीटा, 4 लोगों की मौत
(अपडेट) अनूपपुर: गाय को बचाने में पलटा ऑटो, फिर 100 मीटर तक ट्रेलर ने घसीटा, 4 लोगों की मौत


अनूपपुर, 6 जुलाई (हि.स.)। शहडोल अमलाई मार्ग पर पकरिया गांव के समीप राजमार्ग 43 पर शुक्रवार रात एक भीषण सड़क हादसा हो गया। इस हादसे में एक ही परिवार के चार लोगों की मौत हो गई है, वहीं 2 गंभीर रूप से घायल हैं। मृतकों में मां और दो बेटी समेत एक अन्य रिश्तेदार शामिल हैं। सड़क हादसे के बाद ट्रेलर ने लगभग 100 मीटर ऑटो को अपने साथ हाईवे पर घसीटा। घटना शहडोल जिले के बुढ़ार थाना की हैं।

बुढ़ार थाना प्रभारी संजय जायसवाल ने बताया कि धनपुरी नंबर 3 में रहने वाला असवार परिवार ऑटो में सवार होकर जिला अस्पताल से लौट रहा था, तभी अचानक हाईवे पर मवेशी आ गए, उन्हें बचाने के प्रयास में ऑटो हाईवे पर ही पलट गया। तभी अचानक सामने से एक भारी भरकम ट्रेलर वाहन आ गया। उसने सड़क पर पड़े ऑटो सवार लोगों को कुचल दिया।

मां बेटी समेत 4 की मौत, 2 गंभीर घायल

टीआई संजय जायसवाल ने बताया कि हादसे में 2 महिलाओं के मौके पर ही मौत हो गई। इनमें रोशनी असवार पति मुज्जु असवार (40), ममता असवार पिता मुज्जू असवार (15) के नाम शामिल हैं। वहीं रिया असवार पिता मुज्जू असवार (12) और बिट्टू पिता हरिश्चंद्र (30) ने अस्पताल जाते समय दम तोड़ दिया। जबकि ऑटो चालक कुंज बिहारी त्रिपाठी पिता गोविंद त्रिपाठी (28) और नेमचंद्र पिता हरिश्चंद्र (35) गंभीर रूप से घायल हैं जिनका उपचार मेडिकल कॉलेज में जारी है।

प्रत्यक्षदर्शी ने बताया ऑटो पलटते ही ट्रेलर ने रौंदा, 100 मीटर घसीटते रहे

घटना स्थल पर मौजूद नितिन पांडेय ने बताया कि हम लोग हाईवे के पास ही थे। शहडोल की तरफ से एक ऑटो आ रहा था, हाईवे पर कुछ मवेशी थे, उन्हें बचाने के फिराक में ऑटो हाईवे पर ही पलट गया। जैसे ही ऑटो पलटा तभी सामने से तेज रफ्तार वाहन ट्रेलर (ट्रक) आ गया। पलटे ऑटो से सड़क पर पड़े लोगों को रौंदते हुए ट्रेलर करीब 100 मीटर उन्हें घसीटते हुए ले गया। तब तक चीत्कार सुनाई देने लगा। हम लोग दौड़े, घायलों को बाहर निकालने लगे लेकिन 2 की मौके पर ही मौत हो चुकी थी।

नवजात को देखने गया था परिवार

पुलिस ने बताया कि पीड़ित परिवार शुक्रवार की रात 10 बजे के लगभग जिला अस्पताल से अपने घर धनपुरी नंबर 3 के लिए लौट रहे थे। उनके परिवार में एक बच्ची का जन्म हुआ था उसे देखने सभी ऑटो में सवार होकर जिला अस्पताल गए थे। पुलिस ने बताया कि सभी लोग आपस में रिश्तेदार हैं।

एसईसीएल में नौकरी करती थी रोशनी

पुलिस ने बताया कि मृतिका रोशनी असवार पुत्री मुज्जू एसईसीएल के सेंट्रल अस्पताल में नौकरी करती थी। वह अपनी 2 बेटियों के साथ जिला अस्पताल परिवार में आए नवजात को देखने गई थी। इस हादसे में रोशनी और उनकी 2 बेटियों की मौत हो गई।

फरार चालक पर 30 हजार का इनाम

घटना की सूचना मिलते ही देर रात मौके पर जोन के एडीजीपी डीसी सागर, एसपी कुमार प्रतीक समेत अन्य अधिकारी पहुंच गए थे। रेस्क्यू के बाद पुलिस ने ट्रेलर वाहन को जब्त कर लिया है। वहीं फरार चालक की गिरफ्तारी के लिए एडीजीपी ने 30 हजार रुपये के इनाम की घोषणा की है।

हिन्दुस्थान समाचार/ राजेश शुक्ला/मुकेश

हमारे टेलीग्राम ग्रुप को ज्‍वाइन करने के लि‍ये  यहां क्‍लि‍क करें, साथ ही लेटेस्‍ट हि‍न्‍दी खबर और वाराणसी से जुड़ी जानकारी के लि‍ये हमारा ऐप डाउनलोड करने के लि‍ये  यहां क्लिक करें।

Share this story