अनूपपुर: बिना बताये हैदराबाद जा रहे 3 नाबालिकों को पुलिस ने 24 घंटे के अंदर बिलासपुर से किया दस्तयाब



अनूपपुर, 25 जनवरी (हि.स.)। थाना बिजुरी अंतर्गत कोरजा निवासी तीन नाबालिग बालक मंगलवार को अपने घरों में बिना बतायें कहीं चले जाने की सूचना तीनों के परिजनों ने थाने में दी थी। जिस पर पुलिस ने तत्काल कार्यवाई करते हुए मोबाईल लोकेशन के आधार पर छत्तीसगढ़ राज्य के बिलासपुर से 24 घंटे के अंदर ढूढ़ कर बुधवार को तीनों के परिजनों को सौंप दिया हैं। बिजुरी पुलिस को तीनों के परिजनों ने धन्यवाद दिया हैं।

थाना प्रभारी टीआई राकेश कुमार उइके ने बुधवार को बताया कि 24 जनवरी को मान सिंह गोड ने अपने 16 वर्षीय पुत्र राजेश सिंह गोड, बृजलाल केवट ने अपने 17 वर्षीय पुत्र अंकित कुमार केवट और शिवमंगल केवट ने अपने 16 वर्षीय पुत्र किशन केवट सभी निवासी ग्राम मलगा थाना रामनगर हाल कोरजा ने थाना बिजुरी में अपने पुत्रों के गुम होने की शिकायत दर्ज कराई थी। जिस पर पुलिस अधीक्षक जितेंद्र सिंह पंवार के निर्देशन में एसडीओपी शिवेन्द्र सिंह बघेल ने स.उ.निरी. उदय प्रजापति के नेतृत्व में विशेष टीम बनाई गई। टीम ने तीनों नाबालिगों के मोबाईल को ट्रेस किया जिसकी लोकेसन बिलासपुर शहर में मिली। जिस पर टीम रवाना की गई, जहां तीनों नाबलिग रेलवे स्टेशन पर मिले। पूछताछ में तीनों ने बताया कि हम तीनों घरवालों को बिना जानकारी के काम की तलाश में हैदराबाद जा रहें थे, वहां गांव के ही कई लोग हैं। पुलिस ने तीनों नाबलिगों को थाना बिजुरी ले आई। जहां कानूनी प्रक्रिया पूरी करते हुए बुधवार को तीनों के माता पिता के सुपुर्द कर दिया। शिकायत के 24 घंटे के अंदर करने के लिए बच्चों को ढूढ़ने पर माता पिता ने पुलिस को धन्यवाद भी ज्ञापित किया है।

हिन्दुस्थान समाचार/ राजेश शुक्ला

हमारे टेलीग्राम ग्रुप को ज्‍वाइन करने के लि‍ये  यहां क्‍लि‍क करें, साथ ही लेटेस्‍ट हि‍न्‍दी खबर और वाराणसी से जुड़ी जानकारी के लि‍ये हमारा ऐप डाउनलोड करने के लि‍ये  यहां क्लिक करें।

Share this story