अनूपपुर: स्टेशन में महिला मजदूर की मौत का कारण बनी 108 एंबुलेंस

अनूपपुर: स्टेशन में महिला मजदूर की मौत का कारण बनी 108 एंबुलेंस


स्टेशन मास्टर एवं जीआरपी बनी निष्ठुर, नहीं दिखाई मनावता

अनूपपुर, 16 मई (हि.स.)। रेलवे स्टेशन के प्लेटफार्म क्रमांक एक पर महिला मजदूर अपने 3 वर्षीय अबोध पुत्री के साथ मजदूरी का काम कर वापस लौटी रही कि अचानक मौत हो गई। जीआरपी पुलिस एवं 108 एंबुलेंस भोपाल से संचालित की लापरवाही के चलते महिला मजदूर की जान ले ली। वहीं मृतिका की तीन वर्ष की अबोध बालिका विचलित एवं परेशान होती रही लेकिन स्टेशन मास्टर एवं जीआरपी अनूपपुर का एक भी कर्मचारी महिला मजदूर को देखने तक की फुर्सत नहीं उठाई। यात्रियों द्वारा 100 डायल पुलिस को सूचना दिए जाने पर 100 डायल भोपाल स्थित संचालन एंबुलेंस भेजने की जगह आधे घंटे तक विभिन्न तरह की बातें पूछते रहे जिससे विलंब होने के कारण महिला की जिला अस्पताल ले के पूर्व मृत्यु हो गई।

जिला अस्पताल में डॉक्टर द्वारा परीक्षण में पूर्व से मृत होना बताया। सूचना पर पुलिस पति की उपस्थिति में मृतिका के शव को जिला प्रशासन एवं सीएमएचओ के सहयोग से पैतृक गांव डिण्डौरी जिला भेजा गया।

जानकारी अनुसार डिंडोरी जिले के गाडासरई थाना अंतर्गत ग्राम बरगांव निवासी शिवराम मार्को की 28 वर्षीय पत्नी सरोज मार्को 3 वर्ष की पुत्री मोनिका के साथ दो माह पहले अपने मायका से किसी के साथ उत्तरप्रदेश के कानपुर मजदूरी का काम करने गई थी, जो 16 मई की सुबह अनूपपुर स्टेशन में उतरी तथा इस बीच सरोज ने अपने भतीजे को फोन के माध्यम से अनूपपुर आने तथा पति शिवराम मार्को को अनूपपुर स्टेशन भेजने की बात कही इस बीच सरोज की अचानक तबीयत खराब हो जाने पर वह अनूपपुर के प्लेटफार्म क्रमांक एक में आरपीएफ थाना के पास अपनी बच्ची के साथ लेट गई और अचेत हो गई यात्रियों द्वारा स्टेशन मास्टर, जीआरपी पुलिस, आरपीएफ पुलिस को जानकारी देते हुए 108 एम्बुलेंस पर फोन किया किंतु 108 एंबुलेंस कालसेंटर भोपाल द्वारा एंबुलेंस भेजने की जगह सूचना कर्ता से ही विभिन्न तरह की बातें आधे घंटे तक करते रहे, वहीं सूचना के बाद भी जीआरपी पुलिस का एक अदना सा कर्मचारी गंभीर रूप से बीमार, अचेत अवस्था में पड़ी महिला को देखने तक की फुर्सत नहीं निकाल सका। इस बीच यात्रियों द्वारा हंड्रेड डायल पुलिस को सूचना दिए जाने पर हंड्रेड डायल के आरक्षक कपिल सोलंकी,पायलट मनोज कुमार यादव रेलवे स्टेशन पहुंचकर स्टेशन मास्टर एवं जीआरपी थाना अनूपपुर को सूचना दी गई किंतु काफी देर बाद भी कोई नहीं आया घटना की जानकारी पर अनूपपुर के समाजसेवी शशिधर अग्रवाल भी मौके पर पहुंचकर हंड्रेड डायल पुलिस, आरपीएफ पुलिस एवं स्टेशन के अधिकारियों, सफाई कर्मचारियों के सहयोग से महिला को 108 एंबुलेंस से पीड़िता को जिला चिकित्सालय अनूपपुर लाया गया, इस बीच महिला यात्रियों द्वारा महिला की बालिका को सम्हाला, फोन से मिली जानकारी पर सरोज की पति शिवराम मार्को गांव से अनूपपुर स्टेशन पहुंचे तो उन्हें घटना की जानकारी दी गई। डॉक्टर ने परीक्षण कर सरोज की पूर्व में ही मृत्यु हो जाने की जानकारी दी। पुलिस द्वारा मृतिका के पति एवं सामाजिक कार्यकर्ता तथा सफाई कर्मचारियों के सहयोग से शव का पंचनामा व शव परीक्षण की कार्यवाही की गई। इस बीच जिला प्रशासन एवं मुख्य चिकित्सा स्वास्थ्य अधिकारी द्वारा मृतिका महिला मजदूर के शव को जिला चिकित्सालय के शव वाहन से पति के साथ पैतृक गांव डिंडोरी जिले की में भेजा गया।

हिन्दुस्थान समाचार/ राजेश शुक्ला

हमारे टेलीग्राम ग्रुप को ज्‍वाइन करने के लि‍ये  यहां क्‍लि‍क करें, साथ ही लेटेस्‍ट हि‍न्‍दी खबर और वाराणसी से जुड़ी जानकारी के लि‍ये हमारा ऐप डाउनलोड करने के लि‍ये  यहां क्लिक करें।

Share this story