छतरपुर: पुलिस अधीक्षक की अनूठी कार्यवाही, बाहर की पुलिस को भेजकर अंतरराज्यीय जुए को पकड़ा

छतरपुर: पुलिस अधीक्षक की अनूठी कार्यवाही, बाहर की पुलिस को भेजकर अंतरराज्यीय जुए को पकड़ा
छतरपुर: पुलिस अधीक्षक की अनूठी कार्यवाही, बाहर की पुलिस को भेजकर अंतरराज्यीय जुए को पकड़ा


छतरपुर, 31 मार्च (हि.स.)। जिले के नवागत पुलिस अधीक्षक अगम जैन द्वारा जिले में संचालित हो रहीं तमाम अनैतिक गतिविधियों की निगरानी करते हुए उन पर कार्यवाही की जा रही है। इसी क्रम में बीती रात पुलिस अधीक्षक के निर्देशन में लवकुशनगर थाना क्षेत्र में संचालित अंतरराज्यीय जुए के फड़ पर पुलिस टीम ने छापामार कार्यवाही करते हुए डेढ़ दर्जन से अधिक जुआरियों को लाखों की रकम के साथ पकडऩे में सफलता हासिल की है। गौरतलब है कि यह कार्यवाही लवकुशनगर थाना पुलिस की जानकारी के बगैर पुलिस अधीक्षक के निर्देशन में जिले के अन्य थानों की पुलिस टीम द्वारा की गई है, जिसका कारण लवकुशनगर पुलिस द्वारा जुआरियों को दिया जा रहा संरक्षण बताया जा गया है।

दरअसल पिछले कई दिनों से लवकुशनगर थाना क्षेत्र में जुए का फड़ संचालित होने की खबरें सोशल मीडिया के माध्यम से पुलिस अधीक्षक अगम जैन तक पहुंच रहीं थीं। इन खबरों में लवकुशनगर पुलिस पर यह आरोप लगाया जा रहा था कि जुए का फड़ पुलिस के संरक्षण में संचालित हो रहा है और जब भी लवकुशनगर थाना की पुलिस टीम कार्यवाही करने जाती है तो कुछ पुलिसकर्मी पहले से ही जुआरियों को सूचित कर देते थे, जिस कारण से जुआरी भाग जाते हैं। इन्हीं आरोपों को दृष्टिगत रखते हुए पुलिस अधीक्षक ने खजुराहो एसडीओपी डॉ. सलिल शर्मा और लवकुशनगर एसडीओपी नवीन दुबे के नेतृत्व में एक टीम का गठन किया जिसमें बमीठा, राजनगर और महाराजपुर थाना का पुलिस बल शामिल था। उक्त टीम को कार्यवाही के निर्देश दिए गए, जिसके बाद टीम ने लवकुशनगर थाना की पुलिस को जानकारी दिए बगैर थाना क्षेत्र के ग्राम गुढ़ा खुर्द में दबिश दी। फड़ से पुलिस ने 4 लाख 28 हजार 700 रुपए की नगदी के साथ 20 जुआरियों को गिरफ्तार किया, साथ ही डेढ़ दर्जन से अधिक मोबाइल और 5 नग दोपहिया वाहन भी जप्त किए। बताया गया है कि पकड़े गए जुआरियों में पड़ोसी राज्य उत्तरप्रदेश के भी कुछ लोग शामिल हैं। सभी के विरुद्ध जुआ एक्ट के तहत कार्यवाही किए जाने के साथ-साथ 17 आरोपियों पर पृथक से प्रतिबंधात्मक कार्यवाही की गई है। दो जुआरियों के पास अवैध हथियार पाए जाने पर उन्हें जेल भेजा गया है। कार्यवाही करने वाली टीम में थाना प्रभारी महाराजपुर निरीक्षक सुरभि शर्मा, थाना प्रभारी बमीठा निरीक्षक पुष्पक शर्मा, थाना प्रभारी राजनगर उपनिरीक्षक सिद्धार्थ शर्मा की महत्वपूर्ण भूमिका रही।

पुलिस के हाथ लगे 20 जुआरी

जो 20 जुआरी पुलिस के हाथ लगे हैं उनमें कल्लू खान उम्र 22 साल, राजू कुशवाहा उम्र 45 साल, कदीर खान उम्र 42 साल सभी निवासी ग्राम गुढ़ा खुर्द, आशिक मोहम्मद उम्र 39 वर्ष, दीपू यादव उम्र 28 साल, हरिओम नायक, रामआसरे पाठक, रफीक खान उम्र 44 साल, इकबाल खान उम्र 47 साल, कल्लू यादव उम्र 34 साल, जितेंद्र अहिरवार उम्र 23 साल, फिरोज खान सभी निवासी लवकुशनगर, हेमंत पटेल उम्र 43 साल निवासी देरी रोड छतरपुर, हरिराम पटेल उम्र 38 साल निवासी डुमरा थाना महाराजपुर, राममूर्ति पाठक उम्र 44 साल निवासी परसनियां जिला छतरपुर के अलावा उत्तरप्रदेश राज्य के मोहरी जिला महोबा निवासी वीरेंद्र कुमार, श्रीनगर जिला महोबा निवासी जगदीश अहिरवार उम्र 36 साल, महोबा ऊदल चौक निवासी दीपक साहू उम्र 39 साल, भटीपुरा महोबा निवासी पुष्पेंद्र सिंह उम्र 30 साल और छोटी बाजार बांदा निवासी अनुग्रह सिंह उम्र 45 साल शामिल हैं। उक्त आरोपियों में से आशिक खान के पास पुलिस को 315 बोर का अवैध देसी तमंचा, एक कारतूस और जितेंद्र अहिरवार के पास से छुरा मिला है, जिसके लिए उन पर जुआ एक्ट के साथ-साथ आयुध अधिनियम के तहत अलग से भी कार्यवाही की गई है।

हिन्दुस्थान समाचार/सौरभ भटनागर/नेहा

हमारे टेलीग्राम ग्रुप को ज्‍वाइन करने के लि‍ये  यहां क्‍लि‍क करें, साथ ही लेटेस्‍ट हि‍न्‍दी खबर और वाराणसी से जुड़ी जानकारी के लि‍ये हमारा ऐप डाउनलोड करने के लि‍ये  यहां क्लिक करें।

Share this story