चिकित्सा शिविर में मरीजों का किया नि:शुल्क उपचार

जम्मू, 14 मई (हि.स.)। सुरनकोट, कोटरंका और आसपास के क्षेत्रों के निवासियों, गुज्जरों, बक्करवालों और पहाड़ी आबादी का समर्थन और सहायता करने के लिए, भारतीय सेना ने बॉर्डरलेस वर्ल्ड फाउंडेशन, जीएमसी, राजौरी और पुंछ और पीएचसी, कोटरंका के साथ मिलकर एक मेगा मेडिकल कैंप आयोजित किया। डॉक्टरों की टीम में कोटरंका में कुल 13 एक्स विशेषज्ञ डॉक्टर और सुरनकोट में 10 एक्स विशेषज्ञ डॉक्टर शामिल थे। विशेषज्ञों की टीम में फिजिशियन, स्त्री रोग विशेषज्ञ, फार्मासिस्ट, त्वचा विशेषज्ञ, नेत्र रोग विशेषज्ञ, बाल रोग विशेषज्ञ और फिजिशियन शामिल थे।

फाउंडेशन की टीम के अलावा जीएमसी, राजौरी और पुंछ और पीएचसी, कोटरंका के डॉक्टर भी मौजूद थे। आने वाले मरीजों को आवश्यक विशेषज्ञ देखभाल प्रदान करने के लिए सभी डॉक्टरों के लिए अलग-अलग काउंटर बनाए गए थे, जिसमें एक कवर्ड गायनी-कॉर्नर भी शामिल था। टीबी के रोगियों के बलगम के नमूने लेने के लिए कोटरंका में एक स्क्रीनिंग काउंटर भी स्थापित किया गया था। कोटरंका और सुरनकोट के क्षेत्रों से 1031 पुरुष, 1060 महिलाएं और 237 बच्चे सहित कुल 2428 निवासियों ने मुफ्त चिकित्सा उपचार और दवाओं के वितरण का लाभ उठाया। इस कार्यक्रम का उद्देश्य दूर-दराज के क्षेत्रों से निवासी आबादी और प्रवासी गुज्जर बक्करवाल समुदाय के डेरों को विशेष चिकित्सा स्वास्थ्य देखभाल तक पहुंच प्रदान करने में सहायता करना है। भारतीय सेना और नागरिक चिकित्सा पेशेवरों की टीम के सामूहिक प्रयासों के माध्यम से, निवासी आबादी को उनके समग्र कल्याण के लिए आवश्यक स्वास्थ्य देखभाल सहायता और योगदान प्राप्त हुआ।

हिन्दुस्थान समाचार/राहुल/बलवान

हमारे टेलीग्राम ग्रुप को ज्‍वाइन करने के लि‍ये  यहां क्‍लि‍क करें, साथ ही लेटेस्‍ट हि‍न्‍दी खबर और वाराणसी से जुड़ी जानकारी के लि‍ये हमारा ऐप डाउनलोड करने के लि‍ये  यहां क्लिक करें।

Share this story