नशीली दवाओं के दुरुपयोग और साइबर अपराध के दुष्प्रभावों पर जागरूकता सत्र आयोजित

नशीली दवाओं के दुरुपयोग और साइबर अपराध के दुष्प्रभावों पर जागरूकता सत्र आयोजित
नशीली दवाओं के दुरुपयोग और साइबर अपराध के दुष्प्रभावों पर जागरूकता सत्र आयोजित


कठुआ 16 मई (हि.स.)। जम्मू कश्मीर पुलिस ने नशीली दवाओं के दुरुपयोग और साइबर अपराध के दुष्प्रभावों के बारे में छात्रों के बीच जागरूकता बढ़ाने के अपने प्रयास जारी रखते हुए गवर्नमेंट हायर सेकेंडरी स्कूल फोरलेन कठुआ में आकर्षक इंटरैक्टिव सत्र आयोजित किया।

सत्र की अध्यक्षता अतिरिक्त पुलिस अधीक्षक कठुआ परमजीत सिंह ने की, उनके साथ स्कूल के प्रधानाचार्य मंगत राम, स्टाफ सदस्य और छात्र भी मौजूद थे, जिन्होंने इंटरैक्टिव सत्र में सक्रिय रूप से भाग लिया। सत्र के दौरान अतिरिक्त पुलिस अधीक्षक कठुआ ने नशीली दवाओं के खतरे, इसके स्रोतों, कारणों, परिणामों और समाज के प्रत्येक सदस्य की भूमिका के बारे में विस्तृत जानकारी दी। उन्होंने कहा कि नशीली दवाओं के दुरुपयोग का मुद्दा देश के सामने एक चुनौती है और शिक्षकों, अभिभावकों को सलाह दी कि वे अपने बच्चों के व्यवहार पर पूरा ध्यान दें और उन पर कोई मनोवैज्ञानिक दबाव न डालें जो उन्हें आकर्षित कर सके। इसके अलावा प्रतिभागियों ने ऑनलाइन गतिविधियों, सोशल मीडिया के उपयोग और व्यक्तिगत जानकारी साझा करने से जुड़े जोखिमों को समझते हुए साइबर अपराध के दायरे में अंतर्दृष्टि प्राप्त की। सत्र का उद्देश्य छात्रों को ज्ञान और अंतर्दृष्टि के साथ सशक्त बनाना है ताकि वे आज के तेजी से विकसित हो रहे डिजिटल परिदृश्य में सूचित निर्णय ले सकें और खुद को सुरक्षित रख सकें। सत्र का समापन एक मजबूत संदेश के साथ हुआ जिसमें छात्रों से जिम्मेदार डिजिटल नागरिक बनने और अपने स्वास्थ्य और ऑनलाइन उपस्थिति के बारे में सूचित विकल्प चुनने का आग्रह किया गया।

हिन्दुस्थान/समाचार/सचिन//बलवान

हमारे टेलीग्राम ग्रुप को ज्‍वाइन करने के लि‍ये  यहां क्‍लि‍क करें, साथ ही लेटेस्‍ट हि‍न्‍दी खबर और वाराणसी से जुड़ी जानकारी के लि‍ये हमारा ऐप डाउनलोड करने के लि‍ये  यहां क्लिक करें।

Share this story