लंबित डीए/डीआर को जारी करने की मांग

WhatsApp Channel Join Now

जम्मू, 4 जुलाई (हि.स.)। 8 महीनों के लंबित डीए/डीआर को जारी करने की आवश्यकता पर जोर देते हुए, राष्ट्रीय मजदूर सम्मेलन (एनएमसी) के अध्यक्ष सुभाष शास्त्री ने वीरवार को प्रधानमंत्री और केंद्रीय वित्त मंत्री से अपील की कि वे अपने कर्मचारियों और पेंशनरों को 2 साल लंबित 3 डीए किस्तों का बकाया जारी करें। एनएमसी कार्यकर्ताओं की बैठक को संबोधित करते हुए उन्होंने कहा कि आज मूल्य सूचकांक और मुद्रास्फीति में वृद्धि के कारण वेतनभोगी वर्ग और पेंशनभोगियों को अपनी आजीविका चलाने में कठिनाई का सामना करना पड़ रहा है।

शास्त्री ने कहा कि यह उचित है कि बढ़ते महंगाई भत्ते (डीए) के माध्यम से अर्जित वित्तीय सहायता बिना किसी देरी के जारी की जाए। शास्त्री ने आगे उम्मीद जताई कि केंद्र सरकार जल्द से जल्द इन कर्मचारियों और पेंशनरों के पक्ष में अवरुद्ध 3 डीए किस्तों का बकाया जारी करने में केंद्र/राज्यों/केंद्र शासित प्रदेशों के कर्मचारियों और पेंशनरों की ज्वलंत मांग पर विचार करेगी।

शास्त्री ने उपराज्यपाल मनोज सिन्हा और मुख्य सचिव से चिकित्सा भत्ता 300 रुपये से बढ़ाकर 1000 रुपये प्रति माह करने की भी अपील की। शास्त्री ने कहा, जेकेयूटी में चिकित्सा भत्ता पिछले दो दशक से 300 रुपये प्रति माह है, क्योंकि दवाओं और अन्य चिकित्सा संबंधी खर्चों की कीमतें काफी हद तक बढ़ गई हैं, इसलिए चिकित्सा भत्ता भी केंद्र सरकार के बराबर बढ़ाया जाना चाहिए।

शास्त्री ने जेकेयूटी सरकार के विभिन्न विभागों में काम करने वाले दैनिक वेतनभोगी कर्मचारियों की सेवाओं को एसआरओ 64 के तहत नियमित करने की भी मांग की। जेकेयूटी में सभी केंद्रीय श्रम कानूनों को लागू करना, केंद्र सरकार के बराबर दैनिक वेतनभोगी कर्मचारियों का वेतन बढ़ाना, 8वें वेतन आयोग की स्थापना के अलावा दैनिक वेतनभोगी कर्मचारियों के सभी लंबित वेतन जारी करना, मूल वेतन पेंशन के साथ 50 प्रतिशत डीए को मिलाना, पुरानी पेंशन योजना को बहाल करना आदि शामिल हैं।

हिन्दुस्थान समाचार/राहुल/बलवान

हमारे टेलीग्राम ग्रुप को ज्‍वाइन करने के लि‍ये  यहां क्‍लि‍क करें, साथ ही लेटेस्‍ट हि‍न्‍दी खबर और वाराणसी से जुड़ी जानकारी के लि‍ये हमारा ऐप डाउनलोड करने के लि‍ये  यहां क्लिक करें।

Share this story