अभाविप ने जेयू के प्रवेश मानदंडों को अनुचित बताया, किया प्रदर्शन

जम्मू, 11 जून (हि.स.)। मंगलवार को अभाविप की जम्मू विश्वविद्यालय इकाई ने छात्रों के लिए अनुचित प्रवेश मानदंडों के खिलाफ विरोध प्रदर्शन किया। इकाई ने संबद्ध कॉलेजों के छात्रों को पांचवें सेमेस्टर में प्रवेश पाने के लिए सामना करने वाली समस्याओं के लिए जम्मू विश्वविद्यालय के खिलाफ विरोध प्रदर्शन किया। अकादमिक मामलों के डीन के कार्यालय के बाहर आयोजित विरोध प्रदर्शन में चौथे सेमेस्टर के छात्रों के सामने आने वाली समस्या पर प्रकाश डाला गया, जिन्हें पांचवें सेमेस्टर में प्रवेश पाने के लिए विश्वविद्यालय प्रशासन द्वारा निर्धारित मानदंडों को पूरा करने में मुश्किल हो रही है।

जम्मू विश्वविद्यालय की वर्तमान नीति के अनुसार, छात्रों को प्रवेश के लिए पात्र होने के लिए अपने पहले और दूसरे सेमेस्टर को पूरी तरह से पास करना चाहिए, तीसरे सेमेस्टर में कम से कम 50 प्रतिशत क्रेडिट हासिल करना चाहिए और चौथे सेमेस्टर के आंतरिक असाइनमेंट को पूरी तरह से पास करना चाहिए। इन कारकों ने छात्रों के शैक्षणिक प्रदर्शन को प्रभावित किया है, जिससे उनके लिए विश्वविद्यालय द्वारा निर्धारित आवश्यकताओं को पूरा करना चुनौतीपूर्ण हो गया है।

संगठन का मानना है कि विश्वविद्यालय प्रशासन को प्रवेश प्रक्रिया को अधिक समावेशी और निष्पक्ष बनाने के लिए इन मानदंडों पर पुनर्विचार और संशोधन करना चाहिए। वर्तमान नीति न केवल अवास्तविक है, बल्कि अनुचित भी है, और यदि इसमें कोई परिवर्तन नहीं हुआ, तो बड़ी संख्या में छात्र अपनी शिक्षा जारी रखने से वंचित रह जाएंगे। इस स्थिति का कई छात्रों के शैक्षणिक और व्यावसायिक भविष्य पर दीर्घकालिक नकारात्मक प्रभाव पड़ेगा।

अध्यक्ष साहिल चौधरी ने कहा, वर्तमान प्रवेश मानदंड छात्रों के पक्ष में नहीं है, उन्हें 5वें सेमेस्टर में प्रवेश पाने में कठिनाइयों का सामना करना पड़ रहा है। हम एक निष्पक्ष और अधिक समायोजन नीति की मांग करते हैं, जो छात्रों को अनावश्यक बाधाओं के बिना अपनी शिक्षा जारी रखने की अनुमति दे।

हिन्दुस्थान समाचार/राहुल/बलवान

हमारे टेलीग्राम ग्रुप को ज्‍वाइन करने के लि‍ये  यहां क्‍लि‍क करें, साथ ही लेटेस्‍ट हि‍न्‍दी खबर और वाराणसी से जुड़ी जानकारी के लि‍ये हमारा ऐप डाउनलोड करने के लि‍ये  यहां क्लिक करें।

Share this story