विकसित भारत में अग्रणी भूमिका निभाएं युवा : प्रो ललित कुमार अवस्थी

विकसित भारत में अग्रणी भूमिका निभाएं युवा : प्रो ललित कुमार अवस्थी
विकसित भारत में अग्रणी भूमिका निभाएं युवा : प्रो ललित कुमार अवस्थी


मंडी, 11 जून (हि.स.)। सरदार पटेल विश्वविद्यालय इतिहास विभाग द्वारा क्रांतिकारी राम प्रसाद बिस्मिल जयंती समारोह का आयोजन किया गया। कार्यक्रम में आर्थिक रूप से कमजोर विद्यार्थियों को शिक्षा उत्थान प्रोत्साहन छात्रवृत्ति का भी आवंटन किया गया।कार्यक्रम में मुख्य अतिथि प्रो ललित कुमार अवस्थी कुलपति सरदार पटेल विश्वविद्यालय मंडी रहे। कार्यक्रम की अध्यक्षता प्रो अनुपमा सिंह प्रति कुलपति ने की।

मां सरस्वती के चित्र के सम्मुख ज्योति प्रचलित कर व क्रांतिकारी राम प्रसाद बिस्मिल चित्र पर पुष्पांजलि कर कार्यक्रम का शुभारंभ किया गया। कार्यक्रम संयोजक डॉ राकेश कुमार शर्मा ने मुख्य अतिथि व अन्य अतिथियों का स्वागत एवं परिचय किया। उन्होंने कार्यक्रम के उद्देश्य पर विस्तार से जानकारी दी।इस उपलक्ष्य पर मुख्य अतिथि प्रो ललित कुमार अवस्थी ने क्रांतिकारी राम प्रसाद बिस्मिल को श्रद्धा सुमन अर्पित करते हुए कहा कि उनके जीवन से हमें प्रेरणा लेनी चाहिए। उन्होंने अल्पायु में अपना सर्वस्व भारत माता के लिए न्योछावर कर दिया।

उन्होंने कहा कि विकसित भारत में युवाओं की अग्रणी भूमिका रहेगी अतः युवा लक्ष्य निर्धारित कर आगे बढ़ें। उन्होंने कहा कि भारत एक युवा देश है अतः युवा देश के विकास में अपनी सहभागिता को सुनिश्चित करें। उन्होंने विद्यार्थियों से आह्वान किया कि वे अपनी शक्ति को पहचाने और उसे राष्ट्र व समाज के लिए लगाएं । उन्होंने प्राध्यापकों से कहा कि वे विद्यार्थियों में स्किल विकसित करें ताकि वे स्वाबलंबी बन सकें व विद्यार्थियों से आह्वान किया कि वे अपने जीवन के लक्ष्य को निर्धारित करें और उसे प्राप्त करने के लिए कड़ी मेहनत करें। उन्होंने कहा कि वे हिमाचल प्रदेश के क्रांतिकारियों के संदर्भ में ज्यादा से ज्यादा जानकारी एकत्रित करें उसे समाज तक लेकर आएं।

इस उपलक्ष्य पर कार्यक्रम अध्यक्षा आचार्य अनुपमा सिंह ने कहा कि क्रांतिकारी राम प्रसाद बिस्मिल उन क्रांतिकारी में शुमार थे जिन्होंने अल्पायु में ही अपने देश के लिए सर्वस्व निछावर कर दिया। अतः हमें उनके जीवन से प्रेरणा लेनी चाहिए।विशिष्ट अतिथि इंजीनियर सुनील वर्मा ने कहा कि क्रांतिकारी राम प्रसाद बिस्मिल का जीवन संघर्ष में ही रहा है उन्होंने क्रांतिकारी आंदोलन को एक नई दिशा प्रदान की है।

कार्यक्रम में मुख्य अतिथि आचार्य ललित कुमार अवस्थी ने आर्थिक रूप से कमजोर बारह विद्यार्थियों को पांच- पांच हजार रुपए की धनराशि शिक्षा उत्थान प्रोत्साहन छात्रवृत्ति के अंतर्गत आवंटित की। उन्होंने समाज के प्रबुद्धजनों जिन्होंने विद्यार्थियों को यह धनराशि प्रदान की है उन्हें आभार पत्र देकर सम्मानित किया।

कार्यक्रम में डॉ गंगाराम राजी, कृष्ण चंद्र महादेविया, अनिल शर्मा, नरेश मल्होत्रा, मुरारी शर्मा, कन्हैया लाल सैनी, अजय सहगल, डॉ लखबीर सिंह अधिष्ठाता, शोध, डॉ पवन चांद अधिष्ठाता, छात्र कल्याण, डॉ सुनील ठाकुर अधिष्ठाता, डॉ राम पाल, विकेश कुमार, राजेश शर्मा व कृष्ण कुमार सहित समाज के प्रबुद्धजन, इतिहास समिति एवं इतिहास विभाग के समस्त विद्यार्थी उपस्थित रहे।

हिन्दुस्थान समाचार/ मुरारी

हमारे टेलीग्राम ग्रुप को ज्‍वाइन करने के लि‍ये  यहां क्‍लि‍क करें, साथ ही लेटेस्‍ट हि‍न्‍दी खबर और वाराणसी से जुड़ी जानकारी के लि‍ये हमारा ऐप डाउनलोड करने के लि‍ये  यहां क्लिक करें।

Share this story