मानसून सीजन : उपायुक्त ने अधिकारियों को अपने अपने क्षेत्रों में मुस्तैद रहने के दिए निर्देश

WhatsApp Channel Join Now

धर्मशाला, 06 जुलाई (हि.स.)। कांगड़ा जिला में लगातार जारी बारिश को लेकर प्रशासन पूरी तरह से सतर्क है इस बाबत उपायुक्त हेमराज बैरवा ने उपमंडलाधिकारियों, तहसीलदारों तथा नायब तहसीलदारों सहित विभिन्न विभागों के नोडल अधिकारियों को फील्ड में डटे रहने के निर्देश भी दिए गए हैं ताकि किसी भी स्तर पर राहत तथा पुनर्वास के कार्यों में किसी भी तरह की कमी नहीं रहे।

उपायुक्त हेमराज बैरवा ने शनिवार को जिला मुख्यालय में आपदा प्रबंधन कंट्रोल रूम में बारिश से हुए नुक्सान की समीक्षा की तथा राहत पुनर्वास के कार्यों के लिए आवश्यक दिशा निर्देश भी दिए गए। उन्होंने कहा कि किसी भी स्तर पर आपदा प्रबंधन के कार्यों को लेकर कोताही नहीं बरती जाए तथा सभी विभागों के अधिकारी अपने अपने क्षेत्रों से संबंधित कार्यों के लिए मुस्तैद रहें। उन्होंने बताया कि भारी बारिश के चलते अवरूद्व मार्गों को तुरंत प्रभाव से वाहनों की आवाजाही के लिए दुरूस्त किया है। अभी गुम्मर से कनोल सड़क तथा होल्टा चढियार संधोल रोड को आवाजाही के लिए बहाल करने के निर्दश दिए गए हैं इसके साथ ही आईपीएच की 166 स्कीमें प्रभावित हुई हैं जिनमें से 28 स्कीम चालू कर दी हैं तथा अन्य पर कार्य चल रहा है इसी तरह से विद्युत विभाग के 18 टांसफार्मर डैमेज हुए हैं।

मौसम विभाग ने अगले 24 घंटे भी जिले में कुछ स्थानों पर भारी बारिश की चेतावनी जारी की है तथा आम जनमानस को सतर्क रहने का आग्रह किया गया है। उन्होंने सभी नागरिकों व पर्यटकों से नदी-नालों के किनारे न जाने की अपील की है। उन्होंने आग्रह किया कि भारी बारिश को देखते हुए अनावश्यक यात्रा न करें, सुरक्षित स्थानों पर रहें और किसी प्रकार का जोखिम न उठाएं ।

हिन्दुस्थान समाचार/सतेंद्र/सुनील

हमारे टेलीग्राम ग्रुप को ज्‍वाइन करने के लि‍ये  यहां क्‍लि‍क करें, साथ ही लेटेस्‍ट हि‍न्‍दी खबर और वाराणसी से जुड़ी जानकारी के लि‍ये हमारा ऐप डाउनलोड करने के लि‍ये  यहां क्लिक करें।

Share this story