नगर निगम धर्मशाला ने पेश किया बिना टैक्स वाला बजट, 141 करोड़ 23 लाख, 57 हजार रुपए का बजट पारित

नगर निगम धर्मशाला ने पेश किया बिना टैक्स वाला बजट, 141 करोड़ 23 लाख, 57 हजार रुपए का बजट पारित
नगर निगम धर्मशाला ने पेश किया बिना टैक्स वाला बजट, 141 करोड़ 23 लाख, 57 हजार रुपए का बजट पारित


धर्मशाला, 13 फरवरी (हि.स.)। नगर निगम धर्मशाला का वित्तिय वर्ष 2024-25 के लिए महापौर नीनू शर्मा ने मंगलवार को बजट पेश किया। बतौर महापौर नीनू शर्मा का यह पहला बजट है। इस वित्तीय वर्ष के लिए यह बजट 141 करोड़ 23 लाख, 57 हजार रुपए का रखा गया है, जिसे एमसी धर्मशाला की बैठक में सर्वसम्मति से पारित कर दिया गया। बजट बैठक में आयुक्त आईएएस जफर इकबाल, उप-महापौर तेजेन्द्र कौर, जॉइंट कमिश्नर सुरेन्द्र सिंह सहित पूर्व महापौर व सभी पार्षद मौजूद रहे।

मंगलवार को पेश किए गए नगर निगम के बजट में फिलहाल कोई भी नया टैक्स नहीं लगाया गया। हालांकि अब नगर निगम में नए सहित पुराने वार्ड क्षेत्रों में सर्वे किया जा रहा है। नई कंपनी को समयावधि भी निर्धारित कर दी गई है। सर्वे पूरा होने के बाद ही गृह कर लगाए जाने पर विचार की बात मेयर ने कही है।

विकास कार्यों के लिए पार्षदों को मिलेगा अब एक करोड़

वहीं नगर निगम धर्मशाला के बजट में सभी वार्ड को विकास कार्यों के लिए मिलने वाली राशि में 50 फीसदी की वृद्धि की गई है। पिछले वर्ष विकास कार्यों के लिए पार्षदों को 50-50 लाख की बजाय इस बार एक-एक करोड़ आबंटित किए जाने का प्रावधान किया गया है। नगर निगम के कुल 17 वार्डों में 17 करोड़ का प्रावधान रखा गया है।

सीवरेज व्यवस्था के लिए 60 करोड़, सराह गौ सदन अब बनेगा बेहसहारा पशु सदन

वहीं, एमसी में मर्ज एरिया के लिए सीवरेज व्यवस्था के लिए 60 करोड़ रुपए का बजट सरकार से प्राप्त करने का प्रस्ताव पास किया गया। निगम के धर्मशाला के साथ लगते सराह के गौसदन को अब अपग्रेड करके बेसहारा पशु सदन बनाने का प्रावधान किया गया है, जिसके लिए शुरुआती दौर में डेढ़ करोड़ का बजट रखा गया है। इसमें तीन प्रकार के बेसहारा पशुओं को रखने की व्यवस्था की जाएगी। जिसमें दूध देने वाले, दूध न देने वाले व बिमारी व दर्द से पीड़ित पशुओं को अलग-अलग से रखा जाएगा।

सफाई व्यवस्था के लिए सात करोड़, दो करोड़ से बनेंगे साहबों के आशियाने

बजट में सफाई व्यवस्था पर पिछले वर्ष पांच करोड़ की बजाय अब सात करोड़, पार्किंग को एक करोड़ 20 लाख, आयुक्त और अतिरिक्त आयुक्त आवास को दो करोड़, शापिंग कांप्लेक्स के लिए दो करोड़ व शौचालय रखरखाव को 30 लाख का बजट रखा गया है।

प्राकृतिक आपदा के लिए एक करोड़ का प्रावधान

वहीं बजट में प्राकृतिक आपदा के लिए एक करोड़ का प्रावधान बजट में किया गया है, जिसमें पार्षद को 10 लाख स्थिति को देखते हुए प्रदान करने का प्रवाधान किया गया है। सोलर प्रोजेक्ट के लिए पांच करोड़ सरकार से बजट उपलब्ध करवाने की बात रखी गई है। जिससे बिजली तैयार कर आत्मनिर्भरता बढ़ाने पर फोकस होगा। वहीं आय बढ़ाने के लिए सभी दुकानों को किराए पर प्रदान करने, गृह कर लेने, किराया लेने व कूड़े-कचरे के पैसे समय पर लेने की बात कही गई।

शराब की एक बोतल पर सैस चार रुपए करने का प्रस्ताव

नगर निगम ने शराब की एक बोतल पर आबकारी विभाग से एक रुपए से सैस बढ़ाकर चार रुपए करने का प्रस्ताव सरकार को भेजने की सहमति जताई है, हालांकि पिछले तीन से चार बजट में इसे अब तक सहमति नहीं मिल पाई है। वहीं स्मार्ट म्यूनिसिपल गवर्नंेस के तहत ऑनलाइन कार्यों को बढ़ाया जाएगा। अभी तक पांच कार्य जन्म-मृत्यु पंजीकरण, नक्शों को पास करने, एनओसी, विवाह पंजीकरण शामिल हैं। साथ ही अब हाऊस टैक्स को भी ऑनलाईन करने का कार्य करने पर फोक्स किया जा रहा है। हालांकि अब तक व्यक्ति को इसमें जमा करवाए गए टैक्स की स्लीप नहीं मिल पा रही है, जिसके कारण उन्हें कार्यालय में ही पहुंचना पड़ रहा है। उक्त व्यवस्था को सुधारने के लिए भी एमसी की ओर से काम किया जाएगा।

बजट के महत्वपूर्ण आंकड़े

रेवन्यू इनकम-29 करोड़, 72 लाख, 75 हजार

कैपिटल इनकम-75 करोड़ 60 लाख

राजस्व व्यय-39 करोड़ सात लाख

कैपिटल एक्सपेंडिचर-102 करोड़, 17 लाख

कुल खर्च-141 करोड़, 23 लाख 57 हजार

हिुन्दुस्थान समाचार/सतेंद्र/सुनील

हमारे टेलीग्राम ग्रुप को ज्‍वाइन करने के लि‍ये  यहां क्‍लि‍क करें, साथ ही लेटेस्‍ट हि‍न्‍दी खबर और वाराणसी से जुड़ी जानकारी के लि‍ये हमारा ऐप डाउनलोड करने के लि‍ये  यहां क्लिक करें।

Share this story