भाजपा में सिर्फ मान सम्मान के लिए आया, पद की कोई लालसा नही : सुधीर शर्मा

भाजपा में सिर्फ मान सम्मान के लिए आया, पद की कोई लालसा नही : सुधीर शर्मा
भाजपा में सिर्फ मान सम्मान के लिए आया, पद की कोई लालसा नही : सुधीर शर्मा


भाजपा में सिर्फ मान सम्मान के लिए आया, पद की कोई लालसा नही : सुधीर शर्मा










धर्मशाला, 02 अप्रैल (हि.स.)। कांग्रेस छोड़ भाजपा में शामिल हुए पूर्व मंत्री सुधीर शर्मा के लिए मंगलवार को परिचय बैठक का आयोजन किया गया। नरवाणा में आयोजित इस समारोह में सुधीर शर्मा ने सैंकड़ों की संख्या में कार्यकर्ताओं को एक साथ भाजपा में शामिल करवाया। भाजपा में शामिल होने वालों में कई प्रधान, पूर्व प्रधान, बीडीसी मेंबर, पूर्व पार्षद, पूर्व युवा कांग्रेस अध्यक्ष, महिला कांग्रेस, व्यापार मंडल योल और सेवा दल के कार्यकर्ताओं ने भाजपा का दामन था।

इस मौके पर सुधीर शर्मा ने कहा कि कांग्रेस को अलविदा कहने वाले कार्यकर्ता भाजपा के साथ खड़े होंगे और हर बूथ पर भाजपा के कार्यकर्ता बड़ी संख्या में खड़े होकर प्रदेश व केंद्र में भाजपा की सरकार बनाएंगे।

सुधीर शर्मा ने कहा कि पिछले 14 महीनों से धर्मशाला की जनता द्वारा चुने गए प्रतिनिधि को मुख्यमंत्री द्वारा जलील किया जा रहा था। जिससे समूचे क्षेत्र के कार्यकर्ताओं में गुस्सा था। यही बजह है कि अब कार्यकर्ता कांग्रेस छोड़ भाजपा में शामिल हो रहे हैं। शर्मा ने दावा किया कि केंद्र व प्रदेश में भाजपा की सरकार बनेगी और केंद्रीय विवि आईटी पार्क सहित धर्मशाला विधानसभा क्षेत्र के विकास कार्य रफ्तार पकड़ेंगे। उन्होंने कहा कि सुख्खू सरकार में बेरोजगार रोजगार को तरस रहे थे और सचिवालय में मित्रों की भर्तियां की जा रही थी। जब विधायक आवाज उठाते थे तो उन्हें अपमानित किया जाता था। शर्मा ने कहा कि वह भाजपा में सिर्फ कार्यकर्ताओं के मान सम्मान के लिए जुड़े हैं उन्हें किसी पद की लालसा नहीं है।

उधर इस मौके पर पूर्व विधायक विशाल नैहरिया ने विधानसभा चुनावों में भाजपा प्रत्याशी सुधीर शर्मा को जिताने का आह्वान किया।

कांग्रेस छोड़ भाजपा में शामिल हो रहे नेता व कार्यकर्ता

नरवाणा में आयोजित परिचय बैठक में भाजपा के प्रदेश उपाध्यक्ष एवं विधायक पवन काजल ने कहा कि देश व प्रदेश में हालात ऐसे हैं कि सभी नेता कार्यकर्ता कांग्रेस को छोड़ कर जा रहे हैं। पूरा देश मोदी मोदी कर रहा है। अपने वाले करीब 20 सालों तक ऐसा ही वातावरण रहने वाला है। काजल ने कहा कि कांग्रेस को अलविदा कहने कि शुरूआत उन्होंने सबसे पहले की थी और उसके बाद सभी नेता वारी वारी पार्टी को छोड़ रहे हैं।

भाजपा बनवाएगी धर्मशाला में सीयू : विपिन परमार

पूर्व मंत्री एवं भाजपा के कांगड़ा संसदीय क्षेत्र प्रभारी विपिन सिंह परमार ने कहा कि कांग्रेस सरकार ने कांगड़ा से हमेशा भेदभाव किया है। केंद्रीय विवि के धर्मशाला कैंपस को कांग्रेस कहीं ओर ले जाना चाहती है। सभी विकास कार्यों पर ब्रेक लगा दी गई। विधायकों के काम नहीं हो रहे थे, इसलिए वह पार्टी छोड़ कर चले गए।

जून में केंद्र के साथ प्रदेश में भी बनेगी भाजपा की सरकार : जय राम

नेता प्रतिपक्ष जय राम ठाकुर ने मंगलवार को धर्मशाला के नरवाणा में आयोजित भाजपा की परिचय बैठक में दावा किया कि जून माह में केंद्र के साथ साथ हिमाचल में भाजपा की सरकार बनेगी। उन्होंने कहा कि प्रदेश की सुख्खू सरकार तो अल्मत में है, विधानसभा में भाजपा के विधायकों को निष्कासित कर सरकार बचाने का काम किया गया।

नेता प्रतिपक्ष ने कहा कि प्रदेश में लोकसभा चुनावों के साथ नौ विधानसभा क्षेत्रों में उपचुनाव होते हैं तो निश्चित तौर पर केंद्र में नरेंद्र मोदी के नेतृत्व में भाजपा सरकार के साथ प्रदेश में भी भाजपा की सरकार बनेगी। जयराम ठाकुर ने कहा कि राज्यसभा चुनाव में बहुमत होने के बावजूद कांग्रेस प्रत्याशी हार गए, नैतिकता के आधार पर सीएम को उसी दिन त्यागपत्र दे देना चाहिए था। राज्यसभा चुनाव में हार के बाद कांग्रेस ने 15 भाजपा विधायकों को विधानसभा से निष्कासित कर दिया, यदि भाजपा के 15 विधायकों को सस्पेंड न किया होता तो बजट पारित न होता और सरकार उसी दिन गिर जाती। सरकार ने सत्ता में रहने का नैतिक अधिकार खो दिया है।

जयराम ठाकुर ने कहा कि तीन निर्दलीय विधायकों ने अपने इस्तीफे प्रदेश विधानसभा अध्यक्ष को सौंप दिए हैं, लेकिन उन्हें स्वीकार नहीं किया गया है। उन्होंने कहा कि सुधीर शर्मा ने सरकार को नाकामियों और झूठे वादों से तंग आकर, प्रदेश की मातृशक्ति और युवा शक्ति को उपेक्षा के कारण ही जनहित में अपनी विधायकी की परवाह नहीं की। प्रदेश के लोगों के हित के लिए नौ विधायक फिर से चुनाव में हैं। उन्होंने प्रदेश में भाजपा की सरकार बनती है तो धर्मशाला से भाजपा प्रत्याशी सुधीर शर्मा को पूरा मान-सम्मान दिया जाएगा।

जयराम ठाकुर ने कहा कि कांग्रेस के झूठी गारंटियों से प्रदेश के लोग परेशान हैं। अब तो माताएं और बहनें भी सरकार को कहने लगी हैं कि आपके 1500 रुपये नहीं चाहिए, इन्हें अपने ही पास रखो।

हिन्दुस्थान समाचार/सतेंद्र/उज्जवल

हमारे टेलीग्राम ग्रुप को ज्‍वाइन करने के लि‍ये  यहां क्‍लि‍क करें, साथ ही लेटेस्‍ट हि‍न्‍दी खबर और वाराणसी से जुड़ी जानकारी के लि‍ये हमारा ऐप डाउनलोड करने के लि‍ये  यहां क्लिक करें।

Share this story