धर्मशाला अस्पताल में वयस्क बीसीजी टीकाकरण की शुरूआत

धर्मशाला अस्पताल में वयस्क बीसीजी टीकाकरण की शुरूआत
धर्मशाला अस्पताल में वयस्क बीसीजी टीकाकरण की शुरूआत


धर्मशाला अस्पताल में वयस्क बीसीजी टीकाकरण की शुरूआत










धर्मशाला, 04 अप्रैल (हि.स.)। शहरी क्षेत्र धर्मशाला का पहले वयस्क टीकाकरण सत्र का शुभारंभ वीरवार को जोनल अस्पताल में मुख्य चिकित्सा अधिकारी कांगड़ा डॉ राजेश गुलेरी को वैक्सीन लगाकर किया गया। जिला स्वास्थ्य अधिकारी डॉ राजेश सूद, राजेंद्र कुमार सहायक नियंत्रक वित्त एवं लेखा, विभाग के कर्मचारी तथा धर्मशाला शहर के निवासियों को भी इस अवसर पर बीसीजी टीका लगाया गया।

मुख्य चिकित्सा अधिकारी ने इस अवसर पर पत्रकारों को सम्बोधित करते हुए बताया कि बीसीजी वैक्सीन भारत में 1921 से जन्म के समय नवजात शिशुओं को दी जाती है. यह 180 देशो में 100 से अधिक वर्षों से छोटे बच्चों को टीवी के गंभीर रूपों से बचाने के लिए दिया जाता रहा है वयस्कों में बीसीजी की अतिरिक्त डोज प्रतिरोधक क्षमता को और बढ़ा देती है। वयस्क बीसीजी टीकाकरण भारत में 274 जिलों में दिया जा रहा है। यह टीकाकरण हिमाचल प्रदेश के छह जिलों कांगड़ा, किन्नौर बिलासपुर, सिरमौर, मंडी एवं ऊना में मार्च महीने से शुरू हुआ है जो तीन महीने तक चलेगा।

उन्होंने बताया कि कांगड़ा जिले के ग्रामीण क्षेत्र के लगभग 786 सत्र लगाए जा चुके हैं और एक लाख सहमत लाभार्थियों में से 30,627 लोगों को टीका लगाया जा चुका है

उन्होंने कहा कि 60 वर्ष से अधिक सभी व्यक्ति तथा 18 से 60 वर्ष के आयु वर्ग में वह व्यक्ति जिनमें शुगर की समस्या, कुपोषण, धूम्रपान किया हो, पहले टीवी हुआ हो. या टीबी रोगी के संपर्क में रहे हो वह भी इसके लिए पात्र हैं।

हर सोमवार और वीरवार को लगेगा टीका

मुख्य चिकित्साधिकारी ने कहा कि जोनल अस्पताल के आई मोबाइल यूनिट में हर सोमवार और वीरवार को वस्यक बीसीजी का टीकाकरण किया जाएगा।

हिन्दुस्थान समाचार/सतेंद्र/उज्जवल

हमारे टेलीग्राम ग्रुप को ज्‍वाइन करने के लि‍ये  यहां क्‍लि‍क करें, साथ ही लेटेस्‍ट हि‍न्‍दी खबर और वाराणसी से जुड़ी जानकारी के लि‍ये हमारा ऐप डाउनलोड करने के लि‍ये  यहां क्लिक करें।

Share this story