हिमाचल में आईएएस अधिकारियों के तबादले

शिमला, 13 फरवरी (हि.स.)। हिमाचल प्रदेश में कई आईएएस अधिकारियों को इधर से उधर किया गया है, वहीं तीन आईएएस को अतिरिक्त कार्यभार सौंपा गया है। इस संबंध में मंगलवार को शासन की ओर से आदेश जारी हुए हैं। 1988 बैच के सबसे वरिष्ठ आईएएस अधिकारी संजय गुप्ता को बिजली बोर्ड का चैयरमैन लगाया है। वे सीधे मुख्यमंत्री को रिपोर्ट करेंगे। उन्हें मुख्य सचिव स्तर की सुविधाएं दी जाएंगी। इसके अतिरिक्त प्रदूषण नियंत्रण बोर्ड को प्रभार 1994 बैच के आईएएस अधिकारी अतिरिक्त मुख्य सचिव ओंकार शर्मा को दिया गया है।

इसके मुताबिक प्रधान सचिव कार्मिक डाॅक्टर अमनदीप गर्ग को नई दिल्ली में हिमाचल प्रदेश सरकार का सलाहकार (प्रशासन सुधार) लगाया गया है। उनके पास कार्मिक, लोकनिर्माण विभाग और वन का भी जिम्मा रहेगा। 1998 बैच के आईएएस अधिकारी प्रधान सचिव देवेश कुमार को कर व उत्पाद शुल्क का अतिरिक्त कार्यभार दिया गया है। 2007 बैच के आईएएस अधिकारी सचिव राकेश कंवर को सूचना एवं जन संपर्क विभाग के सचिव का अतिरिक्त कार्यभार सौंपा गया है। शिमला के मंडलायुक्त और पंजीयक सहकारिता सभाएं कदम संदीप बसंत को सचिव आयुष के पद पर स्थानातंरित किया गया है। आगामी आदेशों तक मंडलायुक्त शिमला का कार्यभार भी उनके पास ही रहेगा।

हिमुडा के सीईओ डाॅक्टर आरके पुर्थी को सहकारिता सभाओं का पंजीयक लगाया गया है। उनके पास हमीरपुर स्थित हिमाचल प्रदेश राज्य चयन आयोग के चेयरमैन का अतिरिक्त कार्यभार भी रहेगा। विशेष सचिव तकनीकी शिक्षा संदीप कुमार को हिमुडा का नया सीईओ लगाया गया है। उनके पास निदेशक युवा सेवाएं व खेल की अतिरिक्त जिम्मेदारी रहेगी। शिमला मंडल के बंदोबस्त अधिकारी दोरजे छैरिंग नेगी को निदेशक परिवहन के पद पर बदला गया है। वह आगामी आदेशों तक बंदोबस्त अधिकारी शिमला की अतिरिक्त जिम्मेदारी भी संभालेंगे। निदेशक आयूष डाॅक्टर निपुण जिंदल को निदेशक डिजिटल तकनीक व गवरनेंस के निदेशक और हिमाचल प्रदेश एचपीएसईडीसी के एमडी का अतिरिक्त कार्यभार दिया गया है।

वहीं नियुक्ती का इंतजार कर रहे 2005 बैच के एचएएस अधिकारी सुनील शर्मा को तकनीकी शिक्षा विभाग का विशेष सचिव लगाया गया है। उनके पास विभागीय जांच के आयुक्त का कार्यभार भी रहेगा।

हिन्दुस्थान समाचार/उज्जवल/सुनील

हमारे टेलीग्राम ग्रुप को ज्‍वाइन करने के लि‍ये  यहां क्‍लि‍क करें, साथ ही लेटेस्‍ट हि‍न्‍दी खबर और वाराणसी से जुड़ी जानकारी के लि‍ये हमारा ऐप डाउनलोड करने के लि‍ये  यहां क्लिक करें।

Share this story