हार के डर से मंजूर नहीं किए जा रहे निर्दलीय विधायकों के इस्तीफे: भाजपा

हार के डर से मंजूर नहीं किए जा रहे निर्दलीय विधायकों के इस्तीफे: भाजपा
हार के डर से मंजूर नहीं किए जा रहे निर्दलीय विधायकों के इस्तीफे: भाजपा


शिमला, 3 अप्रैल (हि.स.)। भारतीय जनता पार्टी के प्रदेश उपाध्यक्ष व विधायक हंस राज ने राज्य के तीन निर्दलीय विधायकों के इस्तीफ़े स्वीकार न होने पर सत्तारूढ़ कांग्रेस सरकार पर प्रहार किया है। उन्होंने कहा कि हार के डर से निर्दलीय विधायकों के इस्तीफे मंजूर नहीं किए जा रहे हैं।

बुधवार को एक बयान जारी कर विधायक हंसराज ने कहा कि कांग्रेस पार्टी की सरकार निर्दलीय विधायकों के इस्तीफे मंजूर नहीं कर रही है, क्योंकि उनको पता है कि हिमाचल प्रदेश विधानसभा के उपचुनाव में सभी नौ सीटें कांग्रेस हार जाएंगी। उन्होंने कहा कि कांग्रेस के प्रति जनता में रोष है और यह फीडबैक उनके नेता भी आलाकमान को दे रहे हैं। उन्होंने कहा कि राज्यसभा चुनाव में कांग्रेस के छह विधायकों ने अपना वोट दिखा कर डाला है, ऐसा इतिहास में कभी नहीं हुआ है। इससे स्पष्ट हो गया है कि कांग्रेस सरकार में घुटन का माहौल है। हंसराज ने कहा कि जब कोई विधायक अपने क्षेत्र की समस्याएं लेकर मुख्यमंत्री के सामने जाता है तो उसको दो से तीन महीने का समय दिया जाता है। ऐसा आज से पहले कभी नहीं हुआ, कांग्रेस पार्टी केवल मात्र अपना चेहरा बचाने का प्रयास कर रही है। निर्दलीय विधायक भी परेशान थे और वह तो केवल मात्र अपना हक मांग रहे हैं।

उन्होंने आरोप लगाया कि कांग्रेस सरकार निर्दलीय व अपने पूर्व छह विधायकों के प्रति बदला-बदली की भावना से काम कर रहे हैं, किसी नेता का घर का रास्ता रोक रहे हैं, तो किसी के कारोबार को हानि पहुंचाने का कार्य कर रहे हैं, झूठे केस बना रहे हैं।

हिन्दुस्थान समाचार/उज्ज्वल

/सुनील

हमारे टेलीग्राम ग्रुप को ज्‍वाइन करने के लि‍ये  यहां क्‍लि‍क करें, साथ ही लेटेस्‍ट हि‍न्‍दी खबर और वाराणसी से जुड़ी जानकारी के लि‍ये हमारा ऐप डाउनलोड करने के लि‍ये  यहां क्लिक करें।

Share this story