फाउंडेशन ने जनसंख्या नियंत्रण कानून को बनाने की उठाई मांग

WhatsApp Channel Join Now

नाहन, 11 जुलाई (हि.स.)। विश्व जनसंख्या दिवस पर गुरूवार काे देश सहित हिमाचल प्रदेश में जनसांख्यिकी असंतुलन के समाधान के लिए जिला स्तर पर डीसी के माध्यम से देश के प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी को ज्ञापन देश में जनसंख्या नियंत्रण कानून को बनाने की मांग की जा रही है। इसी कड़ी में जिला मुख्यालय नाहन में जनसंख्या समाधान फाउंडेशन के राज्य अध्यक्ष राजेन्द्र ठाकुर के नेतृत्व में प्रतिनिधि मंडल ने डीसी सुमित खिमटा के माध्यम से प्रधानमंत्री को ज्ञापन सौंप उपरोक्त मांग करते हुए देश में बढ़ती जनसंख्या से हो रहे नुकसानों से अवगत कराया।

मीडिया से बात करते हुए जनसंख्या समाधान फाउंडेशन के राज्य संगठन मंत्री वरिष्ठ अधिवक्ता सुरेंद्र ठाकुर ने कहा कि देश में जनसांख्यिकी असंतुलन के समाधान के लिए जनसंख्या नियंत्रण कानून बनना बहुत जरुरी है, क्योंकि देश में जनसंख्या लगातार बढ़ती जा रही है। हर साल लगभग लगभग एक देश तैयार हो रहा है। हालात यह है कि आज चाइना को भी पीछा छोड़ दिया है। उन्होंने कहा कि भारत वर्ष में संसाधन सीमित है और इन्हें बढ़ाने के लिए क्षेत्रफल से बाहर नहीं आ सकते। अब जनसंख्या इतनी बढ़ रही है कि उसका कोई हिसाब नहीं है। जनसंख्या बढ़ने से संसाधन कम होने के चलते बेरोजगारी बढ़ रही है। पर्यावरण को नुकसान पहुंच रहा है। पानी की समस्या लगातार बढ़ती जा रही है। जैसे जैसे जनसंख्या बढ़ती जा रही है, उतने संसाधन कम होते जा रहे है। इन्हीं सब विषयों को देखते हुए प्रधानमंत्री से देश में जनसांख्यिकी असंतुलन के समाधान के लिए जनसंख्या नियंत्रण कानून बनाने की मांग की का रही है।

हिन्दुस्थान समाचार

हिन्दुस्थान समाचार / जितेंद्र ठाकुर / उज्जवल शर्मा

हमारे टेलीग्राम ग्रुप को ज्‍वाइन करने के लि‍ये  यहां क्‍लि‍क करें, साथ ही लेटेस्‍ट हि‍न्‍दी खबर और वाराणसी से जुड़ी जानकारी के लि‍ये हमारा ऐप डाउनलोड करने के लि‍ये  यहां क्लिक करें।

Share this story