जींद : कुलपति डा. रणपाल सिंह को कर्नल कमांडेन्ट की उपाधि से नवाजा

जींद : कुलपति डा. रणपाल सिंह को कर्नल कमांडेन्ट की उपाधि से नवाजा
जींद : कुलपति डा. रणपाल सिंह को कर्नल कमांडेन्ट की उपाधि से नवाजा


जींद, 15 मई (हि.स.)। भारत सरकार ने चौधरी रणबीर सिंह विश्वविद्यालय के कुलपति डा. रणपाल सिंह को कर्नल की मानद उपाधि से नवाजा है। देशभर से चयनित 19 कुलपतियों के प्रतिष्ठित मंडल में से डा. रणपाल सिंह एक हैं, जिन्हें इस रूप में सम्मान प्राप्त हुआ है। डा. रणपाल सिंह कैडेट कोर के कर्नल कमांडेंट कुलपति हैं। कार्यक्रम के मुख्य अतिथि सेना मेडल विभूषित मेजर जनरल मनजीत सिंह मोखा, विशिष्ट अतिथि हरियाणा राज्य उच्चतर शिक्षा कॉउंसिल के उपाध्यक्ष प्रो. एसके गक्खड़, ब्रिगेडियर विकास राय, सुनीता सिंह ने राष्ट्रीय प्रतीक से सुसज्जित कर उन्हें इस उपाधि से अलंकृत किया।

मुख्यअतिथि ने शहीद कैप्टन पवन के शहीद स्मारक पर पुष्पांजलि अर्पित की। तत्पश्चात मेजर जरनल मनजीत मोखा ने गार्ड ऑफ ऑनर की सलामी ली। मंच संचालन डा. अपूर्वा रेढू और एनसीसी कैडेट आस्था ने किया। कुलपति कर्नल डा. रणपाल सिंह ने आभार अभिव्यक्त करते हुए कहा कि आज इस उपाधि और वर्दी को धारण कर अति प्रसन्न हैं लेकिन यह सम्मान केवल उनका नहीं अपितु सीआरएसयू का सम्मान है। उन्होंने सर्वप्रथम भारत की राष्ट्रपति, भारतीय रक्षा मंत्रालय तथा महानिदेशक, राष्ट्रीय कैडेट कोर का धन्यवाद किया।

मुख्यातिथि मेजर जनरल मंजीत सिंह मोखा ने कहा कि आम्र्ड फफोर्सेस में कर्नल ऑफ द रेजिमेंट का सम्मान बहुत उल्लेखनीय या बहुत सीनियर अफसरों को मिलता है। डा. रणपाल सिंह को इस रैंक के साथ चौधरी रणबीर सिंह विश्वविद्यालय एनसीसी विंग का कर्नल कमांडेंट घोषित करते हुए उन्हें खुशी हो रही है क्योंकि उनके कार्य सदैव सराहनीय घोषित हुए है। इस दौरान कुलसचिव प्रो. लवलीन मोहन, डा. मयंक, निहारिका, कर्नल आरके गोयत, कर्नल जेएस ढोडी, शहीद कैप्टन पवन खटकड़ के माता-पिता, शहीद कैप्टन सतबीर मलिक के माता-पिता और उनके भाई संदीप मलिक, हरियाणा साहित्य एवं संस्कृति अकादमी निदेशक डा. धर्मदेव विद्यार्थी, प्रो. सुनील ढुल, डा. पूनम मोर, डा. रमेश ढांडा, डा. संदीप कंधवाल, डा. रामनिवास मौजूद रहे।

हिन्दुस्थान समाचार/ विजेंद्र/संजीव

हमारे टेलीग्राम ग्रुप को ज्‍वाइन करने के लि‍ये  यहां क्‍लि‍क करें, साथ ही लेटेस्‍ट हि‍न्‍दी खबर और वाराणसी से जुड़ी जानकारी के लि‍ये हमारा ऐप डाउनलोड करने के लि‍ये  यहां क्लिक करें।

Share this story