हिसार: शारीरिक व बौद्धिक विकास के लिए हर गतिविधि में बढ़-चढक़र भाग लें स्वयंसेवक : कुलपति कंबोज

हिसार: शारीरिक व बौद्धिक विकास के लिए हर गतिविधि में बढ़-चढक़र भाग लें स्वयंसेवक : कुलपति कंबोज
हिसार: शारीरिक व बौद्धिक विकास के लिए हर गतिविधि में बढ़-चढक़र भाग लें स्वयंसेवक : कुलपति कंबोज


हिसार: शारीरिक व बौद्धिक विकास के लिए हर गतिविधि में बढ़-चढक़र भाग लें स्वयंसेवक : कुलपति कंबोज


हकृवि की राष्ट्रीय सेवा योजना इकाई की ओर से आयोजित सात दिवसीय शिविर का समापन

हिसार, 13 फरवरी (हि.स.)। हरियाणा कृषि विश्वविद्यालय के कुलपति प्रो. बीआर कंबोज ने कहा है कि भारत की सबसे बड़ी ताकत युवा शक्ति है। अगर हमारे देश को विकसित बनाना है तो युवाओं को शारीरिक, मानसिक व बौद्धिक स्तर पर अपना विकास करने के लिए शैक्षणिक, सांस्कृतिक व खेलों में बढ़-चढक़र भाग लेना चाहिए। वे मंगलवार को हरियाणा कृषि विश्वविद्यालय में राष्ट्रीय सेवा योजना के तहत आयोजित सात दिवसीय विश्वविद्यालय स्तरीय एनएसएस शिविर के समापन अवसर पर स्वयंसेवकों को संबोधित कर रहे थे।

यह शिविर विश्वविद्यालय के छात्र कल्याण निदेशालय की राष्ट्रीय सेवा इकाई द्वारा आयोजित किया गया था, जिसका मुख्य विषय विकसित भारत 2047 में युवा शक्ति की भूमिका रहा। उन्होंने कहा कि हर गतिविधि में भाग लेने से स्वयंसेवकों का सर्वांगीण विकास होगा और आपके व्यक्तित्व में भी निखार आएगा। स्वयंसेवकों को आत्मनिर्भर व अच्छा नागरिक बनकर समाज में फैली कुरीतियों के खिलाफ लडऩा चाहिए। साथ ही स्वयंसेवकों को सकारात्मक सोच के साथ दूसरोंं को साथ लेकर आगे बढऩे की जरूरत है। उन्होंने स्वयंसेवकों से आह्वान किया कि वे विश्वविद्यालय में उपलब्ध सुविधाओं का लाभ उठाते हुए अपने अंदर चरित्र निर्माण, व्यक्तिगत विकास, आत्मविश्वास, नेतृत्व गुणों को पैदा करें, तभी वे जीवन में सफल हो सकते हैं। शिविर के दौरान विभिन्न प्रतियोगिताएं जैसे भाषण, सोलो सोंग, कविता, सोलो डांस, पोस्टर मेकिंग, स्लोगन व ग्रुप डांस प्रतियोगिताएं भी आयोजित की गई। कार्यक्रम के दौरान मुख्यातिथि ने प्रतियोगिताओं के विजेताओं को पुरस्कार देकर सम्मानित किया, साथ ही उन्होंने समस्त स्वयंसेवकों को प्रमाण-पत्र भी प्रदान किए।

छात्र कल्याण निदेशक डॉ. मदन लाल खिचड़ ने सभी का स्वागत किया, जबकि कृषि महाविद्यालय के अधिष्ठाता डॉ. एसके पाहुजा ने धन्यवाद किया। कार्यक्रम अधिकारी डॉ. चंद्रशेखर डागर ने सात दिवसीय विश्वविद्यालय स्तरीय एनएसएस शिविर में आयोजित प्रतियोगिताएं, सांस्कृतिक व विभिन्न विषयों पर हुए व्याख्यान सत्रों पर विस्तृत रिपोर्ट पेश की। मंच संचालन छात्र नमन व छात्रा नवकिरत ने किया। इस अवसर पर विश्वविद्यालय के सभी महाविद्यालयों के अधिष्ठाता, निदेशक, विभागाध्यक्ष, अधिकारीगण सहित सह-छात्र कल्याण निदेशक डॉ. सुशील लेगा व भारी संख्या में विद्यार्थी भी मौजूद रहे।

हिन्दुस्थान समाचार/राजेश्वर/संजीव

हमारे टेलीग्राम ग्रुप को ज्‍वाइन करने के लि‍ये  यहां क्‍लि‍क करें, साथ ही लेटेस्‍ट हि‍न्‍दी खबर और वाराणसी से जुड़ी जानकारी के लि‍ये हमारा ऐप डाउनलोड करने के लि‍ये  यहां क्लिक करें।

Share this story