हिसार : 9 लाख 44 हजार 102 रुपए की ठगी के मामले में दो और गिरफ्तार

अदालत ने दोनों को एक दिन के रिमांड पर भेजा

हिसार, 1 अप्रैल (हि.स.)। साइबर थाना पुलिस ने एक्स्ट्रा लोन दिलाकर 9 लाख 44 हजार 102 रुपए की ठगी के मामले में दो आरोपियों सिरसा निवासी ऋषि कुमार व कपिल को गिरफ्तार किया है। दोनों को अदालत में पेश किया गया, जहां से उन्हें पूछताछ के लिए एक दिन के रिमांड पर भेज दिया गया।

जांच अधिकारी पवन कुमार ने सोमवार को बताया कि हिसार साइबर थाना में हिसार निवासी एक अध्यापक ने 9 लाख 44 हजार 102 रुपए की ठगी होने के बारे में शिकायत दी थी। इसमें उसने बताया कि मार्च 2023 उसके पास सोनिया संधू नामक महिला का फोन आया और उसने लोन की आवश्यकता के बारे पूछा। इस पर शिकायतकर्ता ने साढ़े पांच लाख रुपए के लोन की जरूरत बताई। सोनिया संधू ने शिकायतकर्ता की सैलेरी स्लिप ली और उसका लोन अप्लाई करवा दिया। इसके बाद 30 मार्च को शिकायतकर्ता के बैंक अकाउंट में लोन के 14 लाख 94 हजार 101 रुपए डाल दिए। इस पर शिकायतकर्ता ने महिला को फोन कर कहा कि उसे तो सिर्फ साढ़े पांच लाख रुपए ही लोन चाहिए था। इस पर महिला ने कहा कि विकास जांगड़ा नाम का एक व्यक्ति आपके पास आएगा और आप अमाउंट भर कर दो चेक पर सिग्नेचर कर उसे दे देना। लोन की ज्यादा आई अमाउंट वापस हो जाएगी। इस पर शिकायतकर्ता ने महिला के कहे अनुसार विकास जांगड़ा नामक व्यक्ति को दो चेक में 9 लाख 44 हजार 102 रुपए की अमाउंट भरकर, उस पर सिग्नेचर कर उसे दे दिए। शिकायतकर्ता के बैंक अकाउंट से 11 और 15 अप्रैल 2023 को दो बार में 9 लाख 44 हजार 102 रुपए परमजीत कौर के अकाउंट में ट्रांसफर हो गए। पैसे ट्रांसफर होने के बाद भी बैंक शिकायतकर्ता के लोन अकाउंट में 15 लाख रूपये का लोन दिखा रहा था। इस पर शिकायतकर्ता को ठगी का शक हुआ और शिकायतकर्ता ने पुलिस ने शिकायत दी।

जांच अधिकारी ने बताया कि पुलिस ने शिकायत पर साइबर थाना में 20 नवंबर 2023 को केस दर्ज किया था। पुलिस में इस मामले में अब तक पांच आरोपियों को गिरफ्तार किया है। आरोपी ऋषि कुमार और कपिल मामले में पहले से गिरफ्तार आरोपी रीतू, चेतन कुमार और रामकुमार के साथ मिलीभगत कर ठगी की वारदात में शामिल थे। आरोपी रीतू ने शिकायतकर्ता के पास आईसीआईसीआई बैंक की कर्मचारी सोनिया संधू बनकर फोन किया था, चेतन कुमार शिकायतकर्ता के पास विकास जांगड़ा बनकर गया और उससे दो चेक लेकर आया था और रामकुमार भी चेतन के साथ शिकायतकर्ता से चेक लेने गया था जो चेक बाद में परमजीत कौर के अकाउंट में जमा करवाए गए। आरोपी ऋषि कुमार और कपिल को पूछताछ के लिए अदालत में पेश करके एक दिन के पुलिस रिमांड पर लिया गया है।

हिन्दुस्थान समाचार/राजेश्वर/संजीव

हमारे टेलीग्राम ग्रुप को ज्‍वाइन करने के लि‍ये  यहां क्‍लि‍क करें, साथ ही लेटेस्‍ट हि‍न्‍दी खबर और वाराणसी से जुड़ी जानकारी के लि‍ये हमारा ऐप डाउनलोड करने के लि‍ये  यहां क्लिक करें।

Share this story