हेमामालिनी पर सुरजेवाला के बयान से गरमाई राज्य की सियासत

भाजपा सरकार के मंत्रियों ने कांग्रेस को चौतरफा घेरा

चंडीगढ़, 4 अप्रैल (हि.स.)। फिल्म अभिनेत्री एवं भाजपा की सांसद हेमा मालिनी को लेकर कांग्रेस नेता रणदीप सुरजेवाला के विवादित बयान से हरियाणा की राजनीति गरमा गई है। गुरुवार को प्रदेश सरकार के मंत्रियों ने एकजुटता के साथ सुरजेवाला को घेरा। वहीं, कांग्रेस ने सुरजेवाला के संबंध में अभी तक कोई बयान नहीं दिया है।

सुरजेवाला के बयान पर भाजपा लोकसभा चुनाव प्रबंधन समिति संयोजक एवं राज्यसभा सांसद सुभाष बराला ने कहा कि कांग्रेस पार्टी के नेता देश की महिलाओं का बार-बार अपमान करते हैं। सुरजेवाला को अपने बयान पर तुरंत प्रभाव से माफी मांगनी चाहिए। बराला ने कहा कि कांग्रेस नेता सारी मर्यादाओं को तार-तार कर रहे हैं।

हरियाणा के उद्योग एवं वाणिज्य मंत्री मूलचंद शर्मा ने कहा कि सुरजेवाला ने देश की महिलाओं का अपमान किया है। इस तरह के बयानों के कारण ही कांग्रेस गर्त में चली गई है। हरियाणा के पूर्व गृह एवं स्वास्थ्य मंत्री अनिल विज ने कहा कि सुरजेवाला का हेमा मालिनी के बारे में बयान देना कोई नई बात नहीं हैं। ये कांग्रेस का महिलाओं के प्रति दृष्टिकोण है। उन्होंने कहा कि कांग्रेस की प्रवक्ता सुप्रिया ने भी कंगना रनौत के बारे में भी ऐसी ही टिप्पणी की थी। विज ने कहा कि कांग्रेस का महिलाओं के प्रति क्या विचार व दृष्टिकोण है, के बारे में पूर्व प्रधानमंत्री नरसिम्हा राव की पुस्तक ‘दी इनसाइडर’में दिया गया है।

करनाल से भाजपा सांसद संजय भाटिया ने कहा कि कांग्रेस और इंडी गठबंधन के नेता महिलाओं के अपमान करने में कोई मौका नहीं छोड़ते। कांग्रेस व गठबंधन के संस्कारों व मानसिकता में ही महिला का अपमान रमा हुआ है। इसी का उदाहरण रणदीप सुरजेवाला ने मंच से दिया है। भाटिया ने कहा कि वह माताओं, बहनों से निवेदन करते हैं कि इन मातृशक्ति के विरोधियों को आने वाले लोकसभा चुनाव में अपनी मातृशक्ति की ताकत का अहसास कराते हुए अच्छे से सबक सिखाएं।

हिन्दुस्थान समाचार/संजीव/सुनील

हमारे टेलीग्राम ग्रुप को ज्‍वाइन करने के लि‍ये  यहां क्‍लि‍क करें, साथ ही लेटेस्‍ट हि‍न्‍दी खबर और वाराणसी से जुड़ी जानकारी के लि‍ये हमारा ऐप डाउनलोड करने के लि‍ये  यहां क्लिक करें।

Share this story