हिसार: अल्पसंख्यक युवाओं के लिए रोल मॉडल व प्रेरणा स्रोत बने मोहमद शादाब व आलिया खान

हिसार: अल्पसंख्यक युवाओं के लिए रोल मॉडल व प्रेरणा स्रोत बने मोहमद शादाब व आलिया खान
हिसार: अल्पसंख्यक युवाओं के लिए रोल मॉडल व प्रेरणा स्रोत बने मोहमद शादाब व आलिया खान


हिसार, 11 जून (हि.स.)। राज्य के पुलिस महानिदेशक शत्रुजीत कपूर के निर्देशानुसार हांसी के पुलिस अधीक्षक मकसूद अहमन ने एक पहल की है। अल्पसंख्यक समुदाय के ऐसे खिलाड़ियों को सामने लाए हैं, जिन्होंने अपने जीवन में विपरीत स्थिति होने के बावजूद भी खेलों के क्षेत्र में अपना परचम लहराया है। पुलिस अधिकारियों ने ऐसे छात्रों को सम्मानित किया।

खिलाड़ी मोहमद शादाब एक सामान्य परिवार में पैदा हुए, जिनका जन्म नूंह जिले के गांव रिठोरा में हुआ। इसके पिता का नाम साजिद हुसैन है, जो हरियाणा सरकार में चतुर्थ श्रेणी के कर्मचारी हैं व माता का नाम फरमीना जो गृहिणी हैं। शादाब सहित छह भाई-बहन है, जिनकी प्राथमिक शिक्षा गांव रिठोरा जिला नूंह के राजकीय मिडल स्कूल से हुई है। इनकी उम्र 17 साल है जो अब एशियन पब्लिक स्पोर्ट्स स्कूल गांव उमरा में 11 वी कक्षा में पढ़ रहा है। इन्होंने अपने जीवन में बहुत उतार-चढ़ाव देखे हैं। अपने जीवन में विपरीत परिस्थिति होने के बावजूद भी शुरू से ही खेलों से लगाव था। जब वह 10 साल के थे कुश्ती खेलना सीख गए थे।

कुश्ती खेल में रुचि होने के कारण एशियन पब्लिक स्पोर्ट्स स्कूल में प्रशिक्षण लेना शुरू किया। इनके कोच संजय मलिक ने बताया कि मोहम्मद शादाब शिक्षा के साथ-साथ कुश्ती खेलने में रुचि रखता है और बहुत ही मेहनती, कर्मठ व ईमानदार शिष्य है। उसने कड़ी मेहनत करके जिला व राज्य स्तर पर प्रथम स्थान, ओपन नेशनल अंडर-15 में द्वितीय स्थान व अंडर-17 में तीसरा स्थान हासिल कर हरियाणा की कुश्ती टीम में चयन हुआ है। इसने एशियन चैम्पियनशिप के लिए दिल्ली में ट्रायल दी है।

दूसरे रोल मॉडल आलिया खान एक सामान्य परिवार में पैदा हुई। आलिया का जन्म नूंह में हुआ। पिता का नाम शौकत खान है जो गन हाउस में कार्यरत हैं व माता का नाम शाहिना जो गृहिणी हैं। आलिया सहित छह भाई-बहन है जिनकी प्राथमिक शिक्षा गांव शीतला विद्या निकेतन नोरंगपुर जिला गुरुग्राम में हुई है। आलिया की उम्र 12 साल है जो आठवीं कक्षा की छात्रा है।विपरीत परिस्थितियां होने के बावजूद भी उसे शुरू से ही खेलों से लगाव था। जब वह आठ साल की थी तो कुश्ती खेलना शुरु कर दिया था। कुश्ती खेल में रुचि होने के कारण एशियन पब्लिक स्पोर्ट्स स्कूल में प्रशिक्षण लेना शुरू किया। इनके कोच संजय मलिक ने बताया कि आलिया खान शिक्षा के साथ-साथ कुश्ती खेलने में रुचि रखती है और जो बहुत ही मेहनती, कर्मठ व ईमानदार शिष्या है। हांसी के पुलिस अधीक्षक मकसूद अहमद ने मंगलवार को कहा कि अल्पसंख्यकों को रोल मॉडल के रूप प्रस्तुत करना हमारे विविध समुदायों में एकता को बढ़ावा देने के लिए चल रहे प्रयासों का एक हिस्सा है।

हिन्दुस्थान समाचार/राजेश्वर/सुमन/संजीव

हमारे टेलीग्राम ग्रुप को ज्‍वाइन करने के लि‍ये  यहां क्‍लि‍क करें, साथ ही लेटेस्‍ट हि‍न्‍दी खबर और वाराणसी से जुड़ी जानकारी के लि‍ये हमारा ऐप डाउनलोड करने के लि‍ये  यहां क्लिक करें।

Share this story