2014 में कांग्रेस को अलविदा कह भाजपा में आए थे राव इंद्रजीत सिंह

- 2024 के चुनाव में लगातार तीसरी बार जीत की लगाई हैट्रिक

गुरुग्राम, 9 जून (हि.स.)। वर्तमान में भारतीय जनता पार्टी में कद्दावर नेता के रूप में शामिल राव इंद्रजीत सिंह ने अप्रैल 2014 में कांग्रेस को अलविदा कहकर भारतीय जनता पार्टी का दामन थामा था। मोदी लहर को भांपते हुए उन्होंने अपने राजनीतिक भविष्य के मद्दनेजर यह बड़ा निर्णय लिया।

अप्रैल 2014 जब में राव इंद्रजीत सिंह कांग्रेस को अलविदा कहकर भारतीय जनता पार्टी में शामिल हुए थे, उस समय गुजरात के मुख्यमंत्री के बाद नरेंद्र मोदी प्रधानमंत्री पद के उम्मीदवार के रूप में केंद्र में आए। 16वीं लोकसभा के चुनाव में मोदी लहर में राव इंद्रजीत सिंह की जीत हुई। इस दौरान 27 मई 2014 से 8 नवंबर 2014 तक केंद्रीय राज्य मंत्री (स्वतंत्र प्रभार) योजना मंत्रालय, केंद्रीय राज्य मंत्री (स्वतंत्र प्रभार) सांख्यिकी और कार्यक्रम कार्यान्वयन मंत्रालय और केंद्रीय राज्य मंत्री रक्षा मंत्रालय बनें। फिर 9 नवंबर 2014 से 4 जुलाई 2016 तक केंद्रीय राज्य मंत्री (स्वतंत्र प्रभार) योजना मंत्रालय और रक्षा मंत्रालय केंद्रीय राज्य मंत्री में रहे। इसके बाद 5 जुलाई 2016 से 2 सितम्बर 2017 तक वे केंद्रीय राज्य मंत्री (स्वतंत्र प्रभार) योजना मंत्रालय, केंद्रीय राज्य मंत्री, शहरी विकास मंत्रालय और आवास और शहरी गरीबी उन्मूलन मंत्रालय रहे। तीन सितम्बर 2017 से मइ 2019 तक वे केंद्रीय राज्य मंत्री (स्वतंत्र प्रभार) योजना मंत्रालय और केंद्रीय राज्य मंत्री रसायन और उर्वरक मंत्रालय में रहे। मई 2019 में 17वीं लोकसभा के चुनाव में वे दोबारा से भाजपा की टिकट पर चुनाव जीते। 31 मई 2019 से 6 जुलाई 2021 तक वे वे केंद्रीय राज्य मंत्री (स्वतंत्र प्रभार) सांख्यिकी और कार्यक्रम कार्यान्वयन मंत्रालय और केंद्रीय राज्य मंत्री (स्वतंत्र प्रभार) योजना मंत्रालय रहे। 7 जुलाई 2021 से 2024 तक वे केंद्रीय राज्य मंत्री (स्वतंत्र प्रभार) सांख्यिकी और कार्यक्रम कार्यान्वयन मंत्रालय, केंद्रीय राज्य मंत्री (स्वतंत्र प्रभार) योजना मंत्रालय और कॉर्पोरेट मामलों के मंत्रालय में केंद्रीय राज्य मंत्री रहे। राव इंद्रजीत सिंह 1990 से 2003 तक भारतीय शूटिंग टीम के सदस्य रहे। कॉमनवेल्थ शूटिंग चैम्पियनशिप में कांस्य पदक जीता।

हिन्दुस्थान समाचार / ईश्वर/प्रभात

हमारे टेलीग्राम ग्रुप को ज्‍वाइन करने के लि‍ये  यहां क्‍लि‍क करें, साथ ही लेटेस्‍ट हि‍न्‍दी खबर और वाराणसी से जुड़ी जानकारी के लि‍ये हमारा ऐप डाउनलोड करने के लि‍ये  यहां क्लिक करें।

Share this story