हरियाणा में पहली बार होने जा रही है आईजी व एसपी कांफ्रेंस

पुलिस महानिदेशक शत्रुजीत कपूर फरीदाबाद के सूरजकुंड में कान्फ्रेंस का करेंगे शुभारंभ, राष्ट्रीय सुरक्षा सहित कई अन्य महत्वपूर्ण विषयों पर होगा मंथन

चंडीगढ़, 3 अप्रैल (हि.स.)।हरियाणा में पहली बार 4 से लेकर 6 अप्रैल तक फरीदाबाद में तीन दिवसीय राज्य स्तरीय आईजी व एसपी कॉन्फ्रेंस का आयोजन किया जा रहा है। तीन दिवसीय इस कांफ्रेंस में हरियाणा पुलिस की कार्यक्षमता को बढ़ाने के लिए अलग-अलग विषयों पर मंथन करते हुए बेहतर पुलिसिंग के लिए कार्य योजना तैयार की जाएगी। इस राज्य स्तरीय कॉन्फ्रेंस का शुभारंभ 4 अप्रैल को पुलिस महानिदेशक शत्रुजीत कपूर फरीदाबाद के सूरजकुंड में करेंगे।

तीन दिवसीय इस कांफ्रेंस में हरियाणा प्रदेश के सभी एडीजीपी, आईजी, डीआईजी, एसपी सहित अन्य वरिष्ठ पुलिस अधिकारी भाग लेंगे। उन्होंने बताया कि कांफ्रेंस में पुलिस अधिकारियों को फिटनेस के लिए प्रेरित करने के लिए रोजाना शारीरिक स्वास्थ्य संबंधी अलग-अलग प्रकार की गतिविधियां तथा योग क्रियाएं आयोजित करवाई जाएगी। इस दौरान पुलिसकर्मियों को शारीरिक तथा मानसिक रूप से सशक्त बनाने को लेकर भी विस्तार से चर्चा की जाएगी।

कांफ्रेंस में राष्ट्रीय सुरक्षा परिदृश्य को लेकर अधिकारियों द्वारा अपने विचार रखे जाएंगे तथा उस पर मंथन किया जाएगा। इसके अलावा, कांफ्रेंस में अंतरराष्ट्रीय आतंकवादी संगठनों का राष्ट्रीय सुरक्षा पर प्रभाव तथा उनका आंकलन करने को लेकर भी मंथन होगा। कान्फ्रेंस में हरियाणा में हिंसक अपराध, लोकसभा चुनाव तथा आदर्श आचार संहिता की पालना, पुलिस की भूमिका तथा इंटर एजेंसी कोऑर्डिनेशन आदि पर विशेषज्ञों द्वारा विचार रखे जाएंगे।

कांफ्रेंस में राष्ट्रीय व राज्य स्तर पर उभर रही साइबर चुनौतियों से निपटने तथा महत्वपूर्ण सूचना अवसंरचना संबंधी खतरों को कम करने के लिए रणनीतियां तैयार करने को लेकर मंथन होगा। इसके साथ ही , एआई टूल्सः चैट जीपीटी, डीपफेक, एआई इनेबल्ड क्राइम आदि पर विशेषज्ञो द्वारा विचार रखे जाएंगे। उन्होंने बताया कि सोशल मीडिया के उपयोग से उभर रही चुनौतियां के बारे में विशेषज्ञों द्वारा अपने विचार रखे जाएंगे।

इस दौरान भारत में पहचान पत्र के लिए इस्तेमाल होने वाले दस्तावेजों की धोखाधड़ी को रोकने संबंधी मानदंडों पर भी चर्चा की जाएगी। इसके अलावा, कॉन्फ्रेंस में कैदियों को दी जाने वाली ढांचागत सुविधाओं तथा भविष्य में उनके उत्थान के लिए किए जाने वाले कार्यों को लेकर भी योजना तैयार की जाएगी। कान्फ्रेंस में डीजीपी उत्तम सेवा मेडल पाने वाले पुलिसकर्मियों को मेडल भी वितरित किए जाएंगे तथा उन्हें सम्मानित किया जाएगा। इसके अलावा, प्रदेश के बेस्ट पुलिस स्टेशन के लिए नामित स्टेशन के प्रबंधक अफसर को भी को उत्कृष्ट कार्यों के लिए भी सम्मानित किया जाएगा। कॉन्फ्रेंस में नए प्रमुख आपराधिक बिलः विशेषताएं तथा कार्यान्वयन रोडमैप पर विस्तार से चर्चा होगी।

हिन्दुस्थान समाचार/संजीव

हमारे टेलीग्राम ग्रुप को ज्‍वाइन करने के लि‍ये  यहां क्‍लि‍क करें, साथ ही लेटेस्‍ट हि‍न्‍दी खबर और वाराणसी से जुड़ी जानकारी के लि‍ये हमारा ऐप डाउनलोड करने के लि‍ये  यहां क्लिक करें।

Share this story