गुरुग्राम: रन फॉर ग्रीन मैराथन में लोगों ने शहर को हरा-भरा बनाने का दिया संदेश

गुरुग्राम: रन फॉर ग्रीन मैराथन में लोगों ने शहर को हरा-भरा बनाने का दिया संदेश
गुरुग्राम: रन फॉर ग्रीन मैराथन में लोगों ने शहर को हरा-भरा बनाने का दिया संदेश


-निगमायुक्त डा. नरहरि सिंह बांगड़ ने ग्रीन, स्वच्छ एवं बेहतर गुरुग्राम बनाने का किया आह्वान

-सेक्टर-102 में आयोजित रन फॉर ग्रीन मैराथन में पहुंचे निगमायुक्त

गुरुग्राम, 9 जून (हि.स.)। नगर निगम गुरुग्राम के आयुक्त डा. नरहरि सिंह बांगड़ ने नागरिकों से ग्रीन, स्वच्छ एवं बेहतर गुरुग्राम बनाने में सहयोग का आह्वान किया। प्रत्येक नागरिक मानसून के दौरान अधिक से अधिक पौधे लगाए तथा उनका पालन-पोषण करे। यह ना केवल महत्वपूर्ण है, बल्कि समय की मांग भी है। वे रविवार को सेक्टर-102 में ज्ञानप्रभा फाउंडेशन द्वारा आयोजित रन फॉर ग्रीन मैराथन में बतौर मुख्य अतिथि बोल रहे थे।

उन्होंने कहा कि इस मैराथन के आयोजन के माध्यम से जागरूकता बढ़ाना ज्ञानप्रभा फाउंडेशन की सराहनीय पहल है। सुबह के समय इतनी बड़ी भीड़ देखकर वे वास्तविक में प्रभावित हुए हैं। यह दर्शाता है कि लोग समाज में इस तरह की जागरूकता चाहते हैं। उन्होंने कहा कि नगर निगम गुरुग्राम शहर में ऐसी पहल को बढ़ावा देने और समर्थन देने में अग्रणी रहेगा, जिसमें समाज को शामिल करने के लिए पर्यावरण उन्मुख गतिविधियों की आवश्यकता है। उन्होंने कहा कि अब समय आ गया है कि हम अधिक से अधिक पेड़ लगाएं, ताकि हमारा पर्यावरण स्वच्छ बने और हम अपनी आने वाली पीढ़ी के लिए एक बेहतर शहर का निर्माण करें।

गुरुग्राम महानगर विकास प्राधिकरण के अतिरिक्त मुख्य कार्यकारी अधिकारी सुभाष यादव ने प्रतिभागियों की सराहना की तथा कहा कि वे 10 किलोमीटर और 5 किलोमीटर की दौड़ में भाग लेने के लिए दूर-दूर से कार्यक्रम स्थल तक पहुंचे हैं। उन्होंने कहा कि यह ज्ञान प्रभा फाउंडेशन द्वारा द्वारका एक्सप्रेस-वे के सेक्टर-99 से 115 के निवासियों के सहयोग से आयोजित लगातार दूसरी मैराथन है। जैसा कि उन्होंने देखा है कि प्रतिभागियों की संख्या पिछले वर्ष के मुकाबले इस वर्ष कई गुणा अधिक है। यह एक अच्छा संकेत है।

वरिष्ठ सेवानिवृत आईएएस अधिकारी भारत के पूर्व वित्त सचिव अशोक लवासा ने कहा कि इस आयोजन का सबसे अच्छा हिस्सा ज्ञानप्रभा फाउंडेशन द्वारा पौधों का वितरण है। संस्था के धनंजय झा को इस आयोजन का नेतृत्व करने के लिए बधाई देता हूं। उन्होंने कहा कि देश में प्रति वर्ष तापमान का बढऩा अच्छा संकेत नहीं है। इस छिपे हुए खतरे से निपटने का एकमात्र तरीका पेड़ा लगाकर हरियाली को बढ़ावा देना है। उन्होंने नागरिकों की प्रशंसा करते हुए कहा कि वे इस मुद्दे को अपने कर्तव्यों और जिम्मेदारियों के रूप में लेने के लिए कितने उत्साही हैं यह सराहनीय है। उन्होंने प्रतिभागियों से अपील करते हुए कहा कि वे ना केवल पौधा लगाएं, बल्कि उसे अपने बच्चे की तरह बड़ा करें और उसकी देखभाल करें।

हिन्दुस्थान समाचार/ईश्वर/संजीव

हमारे टेलीग्राम ग्रुप को ज्‍वाइन करने के लि‍ये  यहां क्‍लि‍क करें, साथ ही लेटेस्‍ट हि‍न्‍दी खबर और वाराणसी से जुड़ी जानकारी के लि‍ये हमारा ऐप डाउनलोड करने के लि‍ये  यहां क्लिक करें।

Share this story