फरीदाबाद: डिलीवरी के दौरान महिला की मौत, परिजनों ने लगाया लापरवाही का आरोप

फरीदाबाद: डिलीवरी के दौरान महिला की मौत, परिजनों ने लगाया लापरवाही का आरोप
फरीदाबाद: डिलीवरी के दौरान महिला की मौत, परिजनों ने लगाया लापरवाही का आरोप


फरीदाबाद, 15 मई (हि.स.)। बुधवार को सूरजकुंड स्थित दयालबाग में स्वास्तिक मेडिकेयर सेंटर में डिलीवरी के दौरान एक महिला की मौत हो गई। परिजनों ने अस्पताल के डाक्टरों पर इलाज में लापरवाही बरतने का आरोप लगाया है।

दयालबाग के साउथ एंड इरोज गार्डन निवासी मृतक महिला पारुल के पति कर्म सिंह ने बताया कि उसकी पत्नी को मंगलवार को लेबर पेन होने पर सूरजकुंड स्थित दयालबाग के स्वस्तिक मेडिकेयर सेंटर में डिलीवरी के लिए भर्ती कराया गया था। उसकी पत्नी ने देर शाम नॉर्मल डिलीवरी के बाद एक बच्ची को जन्म दिया। बच्ची लगभग साढ़े तीन किलो की थी और स्वस्थ थी, लेकिन उसकी पत्नी पारुल की लगातार तबीयत बिगड़ती जा रही थी जिसके बाद उन्होंने अस्पताल की डाक्टर को यह जानकारी दी। लेकिन डॉक्टर छवि अरुण ने उनसे कहा कि आप घबराएं नहीं वह मामले को संभाल लेगी। लगभग 2 घंटे बाद डॉक्टर छवि अरुण ने उनसे कहा कि उनकी पत्नी की लगातार तबीयत बिगड़ रही है।

इसलिए वह उसे किसी बड़े अस्पताल में ले जाएं। यह सुनकर उनके हाथ-पांव फूल गए और वह तुरंत दयालबाग स्थित सुप्रीम अस्पताल में अपनी पत्नी को लेकर गए। लेकिन तब तक पारुल की मौत हो चुकी थी। कर्म सिंह ने आरोप लगाया कि स्वस्तिक मेडिकेयर सेंटर की डॉक्टर छवि अरुण ने उनकी पत्नी को पहले एक दर्द का इंजेक्शन लगाया, फिर उसे नींद का इंजेक्शन लगा दिया। जिसके चलते उनकी पत्नी की गलत इलाज देने के चलते मौत हुई है। जिसको लेकर उन्होंने पुलिस में शिकायत दर्ज कराई है । लेकिन अभी उनकी शिकायत पर एफआईआर दर्ज नहीं की गई है। कर्म सिंह के मुताबिक, पुलिस का कहना है कि सिविल सर्जन द्वारा एक डॉक्टर की टीम इस मामले की जांच करेगी। जांच में यदि दोषी पाया जाता है तब जाकर डॉक्टर छवि अरुण के खिलाफ एफआईआर दर्ज की जाएगी। कर्म सिंह ने मांग की कि इस मामले में पुलिस उचित कानूनी कार्रवाई करें।

हिन्दुस्थान समाचार/मनोज/संजीव

हमारे टेलीग्राम ग्रुप को ज्‍वाइन करने के लि‍ये  यहां क्‍लि‍क करें, साथ ही लेटेस्‍ट हि‍न्‍दी खबर और वाराणसी से जुड़ी जानकारी के लि‍ये हमारा ऐप डाउनलोड करने के लि‍ये  यहां क्लिक करें।

Share this story