मेले में आया बॉयोस्कोप पर्यटकों को करवा रहा है राम मंदिर के दर्शन

मेले में आया बॉयोस्कोप पर्यटकों को करवा रहा है राम मंदिर के दर्शन
मेले में आया बॉयोस्कोप पर्यटकों को करवा रहा है राम मंदिर के दर्शन


राजस्थान के भिलवाड़ा से आए शिवम ने मेला में चार स्थानों पर लगाए हैं बॉयोस्कोप

पर्यटक बॉयोस्कोप से निहार रहे हैं देश के विभिन्न मोनूमेंट्स

फरीदाबाद, 13 फरवरी (हि.स.)। भारत देश के विभिन्न मोनूमेंट्स को एक ही स्थान पर लोगों को दिखाने का कार्य बाबा जी का बॉयोस्कोप कर रहा है। 37वें सूरजकुंड अंतरराष्ट्रीय शिल्प मेला में राजस्थान के भिलवाड़ा क्षेत्र से आए शिवम देश के विभिन्न मोनूमेंट्स को अपने बॉयोस्कोप के जरिए मेला घूमने आए पर्यटकों को अनोखे अंदाज में दिखा रहे हैं।

मात्र 50 रुपए के शुल्क पर वे पुराने समय में दिखाए जाने वाले चलचित्र की तर्ज पर ही वे बॉयोस्कोप को चकरी को घुमाकर झांसी व चित्तौरगढ का किला, कुतुब मीनार, दुनिया के सात अजूबों में से एक ताजमहल जैसे अन्य स्थलों के चित्रों को दिखाकर लोगों का मनोरंजन कर रहे हैं। बॉयोस्कोप में एक ओर जहां पर्यटक आयोध्या के राम मंदिर के दर्शन कर रहे हैं वहीं दूसरी ओर जी-20 के मोदी जी को भी निहार रहे हैं। राजस्थान के शिवम का कहना है कि वे अपनी पुस्तैनी कार्य को आगे बढाने में अपने पिता का सहयोग कर रहे हैं। वह सूरजकुंड अंतरराष्ट्रीय शिल्प मेला में पिछले 12 वर्षों से आ रहे हैं। इससे पहले उनके पिता सोहनलाल और उनके दादा भंवरलाल भी सूरजकुंड के मेले के साथ-साथ दिल्ली हाट में बॉयोस्कोप दिखाकर लोगों का मनोरंजन करते आ रहे हैं। शिल्प मेला में विभिन्न चार स्थानों पर लगाए गए बॉयोस्कोप पर्यटकों के आकर्षण का केंद्र बना हुआ है। शिवम का कहना है कि बॉयोस्कोप को लोकल भाषा में 12 मण की धोबण भी कहा जाता है।

हिन्दुस्थान समाचार/मनोज

हमारे टेलीग्राम ग्रुप को ज्‍वाइन करने के लि‍ये  यहां क्‍लि‍क करें, साथ ही लेटेस्‍ट हि‍न्‍दी खबर और वाराणसी से जुड़ी जानकारी के लि‍ये हमारा ऐप डाउनलोड करने के लि‍ये  यहां क्लिक करें।

Share this story