जींद: फर्जी दस्तावेजों पर चुनाव लड़े जिला पार्षद निलंबित

जींद, 11 जून (हि.स.)। जिला परिषद के वार्ड-7 से जिला पार्षद अंग्रेज को पार्षद पद से सस्पेंड किया गया है। धोला से चुनाव हारने वाले अनुराख खटकड़ की शिकायत पर मुख्यमंत्री और पंचायत मंत्री की अप्रूवल के बाद एडिशनल चीफ सेक्रेटरी ने यह कार्रवाई की है। अंग्रेज उर्फ धोला मांडी पर सिविल लाइन पुलिस थाना में फर्जी दस्तावेजों के आधार पर चुनाव लडऩे का मामला भी पहले से ही दर्ज है।

17 नवंबर 2023 को सिविल लाइन पुलिस थाना में अंग्रेज के खिलाफ धोखाधड़ी का मामला भी दर्ज किया गया था। अब सीएम और पंचायत मंत्री की अप्रूवल के बाद एसीएस ने मंगलवार को अंग्रेज उर्फ धोला को जिला पार्षद पद से सस्पेंड किया गया है। जिला परिषद के वार्ड सात से सुदकैन खुर्द निवासी अनुराग खटकड़, मांडी से अंग्रेज उर्फ धौला तथा जितेंद्र छात्तर समेत कई प्रत्याशियों ने चुनाव लड़ा था। जिसमें अंग्रेज उर्फ धौला मांडी प्रतिद्वंदी प्रत्याशी अनुराग खटकड़ से 102 वोट ज्यादा लेकर विजयी रहे थे और पार्षद चुने गए थे। इसके बाद गांव सुदकैन खुर्द निवासी अनुराग खटकड़ ने 28 फरवरी 2023 को डीसी के माध्यम से निर्वाचन आयोग और पंचायत एवं विकास विभाग को शिकायत देकर कहा था कि अंग्रेज उर्फ धौला मांडी की मार्कशीट फर्जी है। दूसरे युवक की मार्कशीट को लेकर एडिट किया गया है।

दूसरे के नाम की जगह अंग्रेज लिखा गया है। साथ ही जन्मतिथि को भी बदला गया है। अनुराग की शिकायत पर जांच शुरू हुई और पहले एसडीएम ने तथा उसके बाद सीईओ ने जांच की। जांच रिपोर्ट को डीसी को सौंपा गया और डीसी ने रिपोर्ट विकास एवं पंचायत विभाग को निदेशक भेज दी। एसडीएम और सीईओ की रिपोर्ट पर तत्कालीन डीसी डा. मनोज कुमार ने विकास एवं पंचायत विभाग के निदेशक को धौला मांडी की जिला परिषद की सदस्यता रद्द करने की सिफारिश की थी। मंगलवार को अनुराग खटकड़ ने कहा कि झूठ पर सच्चाई की जीत हुई है।

हिन्दुस्थान समाचार/ विजेंद्र/संजीव

हमारे टेलीग्राम ग्रुप को ज्‍वाइन करने के लि‍ये  यहां क्‍लि‍क करें, साथ ही लेटेस्‍ट हि‍न्‍दी खबर और वाराणसी से जुड़ी जानकारी के लि‍ये हमारा ऐप डाउनलोड करने के लि‍ये  यहां क्लिक करें।

Share this story