सोनीपत: बरसात हुई तो शहर झील बना, धान की फसल में भारी नुकसान

सोनीपत: बरसात हुई तो शहर झील बना, धान की फसल में भारी नुकसान


सोनीपत: बरसात हुई तो शहर झील बना, धान की फसल में भारी नुकसान


सोनीपत: बरसात हुई तो शहर झील बना, धान की फसल में भारी नुकसान


सोनीपत: बरसात हुई तो शहर झील बना, धान की फसल में भारी नुकसान


सोनीपत, 23 सितंबर (हि.स.)। जिले भर में शुक्रवार को जमकर बरसे बदरा और हालात हुए बेकाबू सबसे ज्यादा बरसात सोनीपत में हुई शहर के कई क्षेत्रों में बारिश के साथ सीवरेज ओवरफ्लो हो गए शहर झाील की तरह लगने लगा वहीं किसानेंा पर यह बरसात कहत बनकर बरसी खड़ी पकी हुई धान की फसल गिर गई इससे भारी नुकसान हुआ वहीं पुलिस कर्मी लोगों की मदद करते भी नजर आए।

शुक्रवार की सुबह 8:00 बजे से सायं 6:0 बजे तक जिला सोनीपत की तहसील/उप-तहसीलवार वर्षा पात रिपोर्ट का इस प्रकार से रहा है। सोनीपत 96 मिमी, गनौर 36 मिमी, गोहाना 71 मिमी, खरखौदा 67 मिमी, खानपुरकलां 62मिमी, राई 37 मिमी बरसात हुई है। इसके प्रभाव अच्छे नहीं रहे।

व्यापार मंडल सोनीपत के प्रधान संजय सिंगला ने कहा कि शुक्रवार को सोनीपत ने झील का रूप ले लिया है और जहां कहीं भी जाएंगे चाहे ककरोई चौक है, महलाना चौक है, शनि मंदिर है, गीता भवन चौक है, सेक्टर 14, 15, आईटीआई चौक है, बरसाती पानी का भराव है। पानी निकासी की सुविधा नहीं है यह दुखद है। प्रशासन और नगर निगम को चाहिए जल्द से जल्द इसका समाधान निकालें इसका प्रबंध किया जाए और जिन दुकानों और मकानों में पानी भरा हुआ है उनका जो नुकसान हुआ है उस नुकसान की भरपाई की जाए।

बारिश ने धान की फसल को बरबाद कर दिया

इधर गन्नौर में रेलवे रोड, नगरपालिका रोड़, बादशाही रोड, ईदगाह रोड, पांची रोड, खेड़ी रोड़ के अलावा अशोक नगर, किशनपुरा, केडी नगर, शास्त्री नगर, बसंत विहार, अनुप नगर, सर्राफा मार्केट सहित शहर के अन्य इलाकों में जनजीवन अस्त-व्यस्त हो गया है। बरसाती पानी में वाहन बंद हो गए और दूसरे वाहन चालक उनकी मदद करते नजर आए। तेज बरसात के कारण लोगों ने घर से निकलने से परहेज किया।

हिन्दुस्थान समाचार/ नरेंद्र/संजीव

हमारे टेलीग्राम ग्रुप को ज्‍वाइन करने के लि‍ये  यहां क्‍लि‍क करें, साथ ही लेटेस्‍ट हि‍न्‍दी खबर और वाराणसी से जुड़ी जानकारी के लि‍ये हमारा ऐप डाउनलोड करने के लि‍ये  यहां क्लिक करें।

Share this story