सिरसा: शाह सतनाम जी धाम में धूमधाम से मनाया गया एमएसजी भंडारा



शाह सतनाम जी धाम में धूमधाम से मनाया गया एमएसजी भंडारा

भंडारे में पहुंचा श्रद्धालुओं का सैलाब

सिरसा 25 जनवरी(हि.स.)। डेरा सच्चा सौदा के संत शाह सतनाम जी महाराज के 104वें पावन अवतार दिवस का एमएसजी भंडारा बुधवार को डेरा सच्चा सौदा में साध-संगत ने धूमधाम और हर्षोल्लास से मनाया। भंडारे पर गुरुभक्ति, देशभक्ति और भारतीय संस्कृति और संस्कारों का अनूठा संगम देखने को मिला।

इस अवसर पर गुरु जी के मार्गदर्शन में चलाए जा रहे मानवता भलाई कार्यों के तहत जरूरतमंदों की मदद की गई। वहीं मंदबुद्धियों की सार-संभाल और उपचार के बाद सकुशल घर पहुंचाने वाले सेवादारों को सम्मानित किया। इसके अलावा बाबा राम रहीम ने नशों के खिलाफ चलाई गई डेप्थ मुहिम से संबंधित वेबसाइट भी लांच की। कार्यक्रम में कुल का क्राउन मुहिम के तहत बेटी विवाह बंधन में बंधीं।

बुधवार को एमएसजी भंडारे का आगाज डेरा प्रमुख राम रहीम ने ‘धन-धन सतगुरु तेरा ही आसरा’ के नारे के रूप में बधाई के साथ हुआ। इसके पश्चात डेरा के कविराजों ने विभिन्न भक्तिमय भजनों के माध्यम से गुरु महिमा का गुणगान किया। तत्पश्चात हरियाणा, पंजाब, राजस्थान सहित देश के विभिन्न राज्यों की संस्कृतियों और संस्कारों को दर्शाती प्रस्तुतियों ने सभी का मन मोह लिया। वहीं एक्रोबेटिक, स्किट और कॉमेडी के माध्यम से युवाओं को नशों से दूर रहने का सशक्त संदेश मिला। इस दौरान गुरमीत राम रहीम ने ऑनलाइन सत्संग में फरमाया कि वे ईश्वर की भक्ति में सरोबार हों तथा साथ ही अपने सामाजिक कर्तव्यों की पूर्ति भी अवश्य करें। उनके वचनों को साध-संगत ने एकाग्रचित होकर श्रवण किया। एमएसजी भंडारे के शुभ अवसर पर पूरी साध-संगत को लंगर का प्रसाद वितरित किया गया।

वालंटियर्स ने संभाली व्यवस्था

भंडारे के अवसर पर लाखों वालंटियर्स ने साध-संगत की सुविधा के लिए यातायात, पंडाल, पेयजल, प्राथमिक चिकित्सा, लंगर-भोजन, बुजुर्गों व दिव्यांगों को पंडाल तक पहुंचाने के लिए पूरी व्यवस्था को संभाला। अलग-अलग रा’यों से आने वाली साध-संगत के वाहनों की पार्किंग के लिए अलग-अलग विशाल ट्रैफिक ग्राउंड बनाए गए थे। साध-संगत की सुविधा के लिए विभिन्न स्थानों पर सूचना केंद्र बनाए गए थे।

ये तीन नए कार्य किए शुरू

भारतीय संस्कृति को जिंदा रखने और खुशहाल जिंदगी रखने के लिए सुबह उठते ही माता-पिता व बड़ों के चरण स्पर्श करने व उनका आशीर्वाद लेकर दिन की शुरूआत करना। परिवार में खुशहाली बनी रहे इसके लिए रोज नहीं तो कम से कम सप्ताह में एक दिन जरूर सारा परिवार इकट्ठा बैठकर खाना खाए। गरीब बस्तियों में आरो लगवाकर देना।

हिन्दुस्थान समाचार/रमेश/संजीव

हमारे टेलीग्राम ग्रुप को ज्‍वाइन करने के लि‍ये  यहां क्‍लि‍क करें, साथ ही लेटेस्‍ट हि‍न्‍दी खबर और वाराणसी से जुड़ी जानकारी के लि‍ये हमारा ऐप डाउनलोड करने के लि‍ये  यहां क्लिक करें।

Share this story