सहायक प्रोफेसरों की नियुक्तियों में मनमानी कर रहा एचएयू प्रशासन:पूनिया



सहायक प्रोफेसरों की नियुक्तियों में मनमानी कर रहा एचएयू प्रशासन:पूनिया


कांग्रेस नेता ने लगाए आरोप, चहेतों को लाभ पहुंचाने का प्रयास कर रहे संबंधित डीन

कुलपति के पास नहीं मिलने का समय, कोर्ट का दरवाजा खटखटाएंगे योग्य उम्मीदवार

हिसार, 25 जनवरी (हि.स.)। वरिष्ठ कांग्रेस नेता वजीर सिंह पूनिया ने हरियाणा कृषि विश्वविद्यालय प्रशासन पर योग्य उम्मीदवारों की अनदेखी करके सहायक प्रोफेसरों की नियुक्तियों में छेड़छाड़ का आरोप लगाया है। उन्होंने कहा कि कई विद्यार्थियों ने उन्हें एचएयू अधिकारियों की इस मनमानी से अवगत करवाया है लेकिन इस मामले में किसी से अन्याय नहीं होने दिया जाएगा।

वजीर सिंह पूनिया ने बुधवार को बताया कि 28 दिसम्बर 2012 को कॉलेज आफ बायोटेक्नोलॉजी में विज्ञापन संख्या 04/2022 के तहत सहायक प्रोफेसर (असिस्टेंट प्रोफेसर) की नियुक्ति के लिए आवेदन मांगे गए थे। अब पता चला है कि कॉलेज आफ बेसिक साइसं हुमेनिटिस में मांगे गये आवेदनों की योग्यता के साथ छेड़छाड़ व मनमानी की जा रही है। यह भी पता चला है कि ऐेसा अपने किसी चहेते व व्यक्ति विशेष को लाभ पहुंचाने के लिए किया जा रहा है।

उन्होंने बताया कि इस मामले से संबंधित दोनों डीन को भी अवगत करवाया गया लेकिन उन्होंने मामले का हल निकालने या विद्यार्थियों को कोई संतुष्टिपूर्ण जवाब देने की बजाय अपने पदों का दुरूपयोग करते हुए केवल अपने विभागों को नियुक्ति के लिए योग्य करवाया।

बच्चों द्वारा डीन को लिखे गये पत्र का हवाला देते हुए वजीर सिंह पूनिया ने बताया कि इस मामले को विभाग के अध्यापकों एव विभागीय कमेटी के समक्ष भी उठाया गया लेकिन संबंधित दोनों डीन ने आपसी मिलीभगत व पदों का दुरूपयोग करते हुए मामले का हल निकालने से साफ इनकार कर दिया। उन्होंने कहा कि एचएयू के अधिकारियों की यह पहली कारस्तानी नहीं है। इससे पहले वर्ष 2019 की नियुक्तियों में भी ये डीन ऐसा ही कर चुके हैं।

हिन्दुस्थान समाचार/राजेश्वर

हमारे टेलीग्राम ग्रुप को ज्‍वाइन करने के लि‍ये  यहां क्‍लि‍क करें, साथ ही लेटेस्‍ट हि‍न्‍दी खबर और वाराणसी से जुड़ी जानकारी के लि‍ये हमारा ऐप डाउनलोड करने के लि‍ये  यहां क्लिक करें।

Share this story