(अपडेट) आईएनडीआईए की महारैली में सब ने भाजपा पर साधा निशाना

नई दिल्ली, 31 मार्च (हि.स.)। दिल्ली के रामलीला मैदान में राहुल गांधी, मलिकार्जुन खड़गे, प्रियंका गांधी, अखिलेश यादव, तेजस्वी यादव, फारूक अब्दुल्ला, महबूबा मुफ्ती के साथ चंपई सोरेन और कल्पना सोरेन भी मौजूद रहे। इसी बीच महारैली में पहुंची कल्पना सोरेन ने केंद्र की भाजपा सरकार पर जमकर निशाना साधा। उन्होंने कहा कि केंद्र की भाजपा सरकार तानाशाही कर रही है।

कल्पना सोरेन ने केंद्र सरकार पर निशाना साधते हुए कहा कि जो लोग इनके खिलाफ बोलते हैं उन्हें जेल के अंदर डाला जा रहा है, जो लोग उनकी पार्टी में आ रहे हैं उन्हें माफ किया जा रहा है। विपक्ष के नेताओं को बेवजह परेशान किया जा रहा है। किसी ने कोई घोटाला नहीं किया उसके बावजूद भी किस तरह से विपक्ष के सभी राजनीतिक दलों के नेताओं को परेशान किया जा रहा है। झूठे मामलों में जेल के अंदर किया जा रहा है। ईडी के द्वारा जबरदस्ती रेड करवाई जा रही है। सीबीआई जांच करवाई जा रही है सरकारी तंत्र का दुरुपयोग किया जा रहा है।

कल्पना सोरेन ने कहा है कि दोषी कौन है यह तो आने वाला वक्त ही बताएगा। न्यायपालिका पर हमें पूरा भरोसा है। हम यही चाहेंगे कि हमें इंसाफ जल्दी से जल्दी मिले आज हम जितनी भी पार्टी यहां पर इकट्ठा हुए हैं, लोकतंत्र को बचाने के लिए यहां पर आए हैं।

पूरा देश आपके साथः उद्धव ठाकरे

महाराष्ट्र के पूर्व मुख्यमंत्री उद्धव ठाकरे ने कहा, “आप लोग (कल्पना सोरेन और सुनीता केजरीवाल) चिंता मत करो, सिर्फ हम ही नहीं पूरा देश आपके साथ है… कुछ दिन पहले आशंका थी कि क्या हमारा देश तानाशाही की ओर चल रहा है? लेकिन अब ये आशंका नहीं सच्चाई हो गई है। भाजपा पार्टी को लग रहा होगा कि अरविंद केजरीवाल और हेमंत सोरेन को गिरफ्तार करने से लोग डर जाएंगे लेकिन उन्होंने अपने देशवासियों को कभी पहचाना नहीं। बहन लड़ रही तो भाई क्यों पीछे रहे।”

उन्होंने आगे कहा, “मेरे भारत में हर कोई डरने वाला नहीं, लड़ने वाला है। भाजपा सरकार ने किसानों को दिल्ली आने से रोका। अब भाजपा को दिल्ली आने से रोकना होगा। ईडी, आईटी और सीबीआई ये सभी बीजेपी की साथी पार्टियां हैं. बीजेपी देश के लिए खतरनाक हो गई है।”

केजरीवाल को परेशान कर रही भाजपा: मुफ्ती

जम्मू-कश्मीर की पूर्व मुख्यमंत्री महबूबा मुफ्ती ने कहा कि अरविंद केजरीवाल को इसलिए परेशान किया गया ताकि वो भाजपा में चला जाए। भ्रष्टाचारी बता रहे हैं। उसका क्या कसूर था। उन्होंने अच्छे स्कूल और अस्पताल बनाए। भाजपा पर हमला करते हुए मुफ्ती ने कहा कि इनको अगर परिवारवाद से दिक्कत होती तो सिंधिया जैसे नेताओं को ना लेते। इनको बस नेहरू गांधी परिवार से दिक्कत है।

उन्होंने कहा कि दो करोड़ नौकरियां देने की बात की गई थी लेकिन इन्होंने नौजवानों का अपराधीकरण किया उनसे दंगा कराए। कौन क्या खा रहा है ये दिखाया।

तेजस्वी यादव ने मंच से गाया गाना

रामलीला मैदान में बिहार के पूर्व उप मुख्यमंत्री तेजस्वी यादव ने भाजपा सरकार की मोदी की गांरटी को निशाना बनाते हुए कहा कि ये गोबर को हलवा बना कर परोस देते हैं, आंख फोड़कर चश्मा देते हैं। मोदी की गारंटी चाइनीज माल की तरह होती है। इनपर भरोसा मत करिएगा। हमने आज देखा कि राष्ट्रपति आडवाणी को सम्मानित करने गई वो खड़ी थी और प्रधानमंत्री बैठे थे।

तेजस्वी ने कहा कि ये लोग नागपुरिया और आरएसएस के कानून को लागू करना चाहते हैं। ये संविधान का सम्मान नहीं करते। वहीं अपनी सरकार की गांरटी बताते हुए उन्होंने कहा कि अगर इंडिया गठबंधन की सरकार बनेगी तो युवाओं को रोजगार मिलेगा। साथ ही तेजस्वी ने मंच से गाना गाया तुम तो धोखेबाज हो, वायदा करके भूल जाते हो, रोज रोज जो मोदी ऐसा करोगे, जनता रूठ गई तो मोदी जी हाथ मलोगे।

तेजस्वी यादव ने कहा कि ये दिल्ली की भीड़ बता रही है कि मोदी जिस तरह आंधी की तरह आए थे तूफान की तरह चले जाएंगे। तेजस्वी ने आगे भाजपा पर हमला करते हुए कहा कि भाई को भाई से लड़ाया जा रहा है। नफरत फैलाई जा रही है। उन्होनें कहा कि जो लोग नारा लगाते हैं कि अबकी बार 400 पार वो कुछ भी बोल सकते हैं, लेकिन जनता ही मालिक है।

तेजस्वी यादव ने ईवीएम मशीन को लेकर कहा कि ऐसा लग रहा है कि पहले से ही ईवीएम सेट कर चुके हैं।

इसी क्रम में अखिलेश यादव ने 2014 में भाजपा के उप्र सफाए का जिक्र करते हुए कहा, 'वे वास्तव में इस बार 400 सीटें हारेंगे। राज्य के लोग भव्य स्वागत के साथ-साथ शानदार विदाई देने के लिए भी जाने जाते हैं। इस बार सिर्फ उप्र में ही नहीं बल्कि पूरे देश में भाजपा की हार होगी। बिहार और उप्र दोनों लोकसभा में 120 सदस्य भेजते हैं और उम्मीद है कि इंडिया ब्लॉक दो बड़े राज्यों में भाजपा को चुनौती देगा।

जबकि महाराष्ट्र में कांग्रेस के दो सहयोगियों एनसीपी एसपी ग्रुप के प्रमुख शरद पवार और शिवसेना यूबीटी नेता उद्धव ठाकरे ने भी मतदाताओं से 'भाजपा को हराने और देश में लोकतंत्र को बचाने' का आग्रह किया।

वहीं सीपीआई-एम के सीताराम येचुरी ने लोगों के बीच 1974 के जेपी आंदोलन की तरह लामबंदी की आवश्यकता पर जोर दिया, सीपीआई-एमएल के दीपांकर भट्टाचार्य ने 'भाजपा में सत्ता के केंद्रीकरण' पर चिंता व्यक्त की। द्रमुक के तिरुचि शिवा ने तमिलनाडु के मुख्यमंत्री एमके स्टालिन का संदेश पढ़ा जिन्होंने पूरे दिल से विपक्षी गुट का समर्थन किया।

वहीं, पंजाब के मुख्यमंत्री सरदार भगवंत मान ने कहा कि देश का लोकतंत्र खतरे में है। इनको यह लगता है कि ये डंडे से देश चला लेंगे तो यह देश किसी के बाप की जागीर नहीं है। यह 140 करोड़ लोगों का देश है। हम इनसे डरने-झुकने और टूटने वाले नहीं हैं। यह आजादी हमें शहीद भगत सिंह, राजगुरु, सुखदेव, मदन लाल ढींगरा, करतार सिंह सराभा, चंद्रशेखर जैसे हजारों युवाओं ने अपनी जवानी में गले में फांसी के रस्से लटका कर दी है।

ये किसी को भी जेल में डाल दे रहे हैं। स्कूल-अस्पताल बनाने वाले को अंदर कर दे रहे हैं। कांग्रेस के खाते फ्रीज कर दिए। क्या ये ऐसे लोकसभा चुनाव जीत लेंगे? ये लोग अपने आप को समझ क्या रहे हैं। इन्होंने फर्जी केस करके दिल्ली के मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल और झारखंड के मुख्यमंत्री हेमंत सोरन को अंदर कर दिया। किसी के घर ईडी भेज दे रहे हैं। किसी घर छीन ले रहे हैं। क्या ये लोग इन घरों के मालिक हैं। इन घर की मालिक देश की 140 करोड़ जनता है। किसी को कोई पता नहीं कि जनता को किसे सत्ता तक पहुंचाना है। ये लोग गलतफहमी में हैं।

हिन्दुस्थान समाचार/ अश्वनी/प्रभात

हमारे टेलीग्राम ग्रुप को ज्‍वाइन करने के लि‍ये  यहां क्‍लि‍क करें, साथ ही लेटेस्‍ट हि‍न्‍दी खबर और वाराणसी से जुड़ी जानकारी के लि‍ये हमारा ऐप डाउनलोड करने के लि‍ये  यहां क्लिक करें।

Share this story