बुराड़ी के गांव में घुसा तेंदुआ

नई दिल्ली, 1 अप्रैल (हि.स.)। नॉर्थ दिल्ली के बुराड़ी इलाके के जगतपुर गांव में सोमवार सुबह भगदड़ मच गई। क्योंकि यमुना किनारे से एक तेंदुआ घुस आया था। तेंदुए ने कई लोगों को घायल करना शुरू कार दिया। घायलों को अस्पताल में भर्ती करवाया गया है। गांव के लोगों ने जान पर खेल कर डंडों की मदद से तेंदुए पर हमला करके उसको किसी तरह एक कमरे में बंद कर दिया। तब जाकर लोगों की जान बची। जिस घर में तेंदुआ बंद किया गया उस घर के भी तीन सदस्यों को तेंदुए ने घायल कर दिया है।

लोगों का गुस्सा पुलिस और वन विभाग की टीम पर था। क्योंकि कन्ट्रोल रूम को काल करने के चार घंटे बाद भी वन विभाग की पूरी टीम नही आयी थी। जिसके कारण तेंदुए को बाहर नहीं निकला जा सका था। घर के अंदर जाल लगाये जा रहे हैं। मौके पर पुलिस बल मौजूद थीं। गांव के लोगों को आशंका थी की और भी तेंदुए आसपास में मौजूद हो सकते हैं। क्योंकि पहले भी इसी क्षेत्र के आसपास एक तेंदुआ एक्सीडेंट में मौत का शिकार हो गया था। उसके बाद भी गांव के लोगों ने दूसरे तेंदुए को देखा था। समाचार लिखे जाने तक रेस्क्यू ऑपरेशन जारी था।

एक प्रत्यक्षदर्शी ने बताया कि सुबह 5:00 के बाद अचानक तेंदुआ उनके इलाके में घुस आया था और कई लोगों पर हमला करने लगा। जब लोगों ने कंट्रोल रूम को सूचना दी तो कहा की असल में तेंदुआ आया है, या नहीं वीडियो बनाकर भेजिए। इसी बीच 6:30 बजे पीसीआर आ गई। लोगों के अनुसार पीसीआर टीम पहुंचने के बाद तेंदुआ ने कई लोगों पर जानलेवा हमला किया है।

एक ही परिवार के तीन लोग घायल हुए हैं। जिस घर में तेंदुआ को बंद किया गया है। स्थानीय लोगों ने बताया कोई जब वन विभाग की टीम पहुंची तो उनके पास ना तो बेहोशी का इंजेक्शन था, ना गन और ना ही जाल थी। सिर्फ दो लोग ही वहां पर आए थे। इसलिए मूकदर्शक बने रहे। फिर लोगों ने खुद की जान बचाने के लिए डंडों से तेंदुए पर हमला करना शुरू किया। तब जाकर उनकी जान बची और तेंदुआ घर के अंदर घुसा तो गेट बंद कर दिया गया। किसी के पेट, किसी के छाती, किसी के सर, किसी के चेहरे, किसी की पीठ पर हमला करके तेंदुआ ने बुरी तरह घायल किया।

दमकल विभाग के निदेशक अतुल गर्ग ने एक बताया कि फायर कंट्रोल रूम को भी सुबह 6:18 पर सूचना मिली थी। वजीराबाद के एक गांव में घर के अंदर तेंदुआ घुस गया है। लोगों ने उसको कमरे के अंदर बंद कर दिया है। इसमें कई लोग घायल हुए हैं। मौके पर दो फायर की गाड़ी और 8 फायर कर्मियों की टीम को भेजा गया।

डीसीपीमनोज कुमार मीणा ने बताया कि पुलिस कंट्रोल रूम को 6:14 पर कॉल मिली थी। वजीराबाद पुलिस स्टेशन के जगतपुर गांव में टाइगर घर में घुस आया है। उसके बाद मौके पर पुलिस टीम पहुंची और तुरंत फॉरेस्ट डिपार्टमेंट के ऑफिसर को भी सूचना दी गई। जिन लोगों को घायल किया गया है उनमें से तीन की पहचान महेंद्र, आकाश और रामपाल के रूप में हुई है। यह तीनों जगतपुर गांव के ही रहने वाले हैं। मौके पर फॉरेस्ट टीम के सत जवान, फायर ब्रिगेड की टीम और लोकल पुलिस मौजूद है। रेस्क्यू ऑपरेशन किया जा रहा है।

हिन्दुस्थान समाचार/ अश्वनी/अनूप

हमारे टेलीग्राम ग्रुप को ज्‍वाइन करने के लि‍ये  यहां क्‍लि‍क करें, साथ ही लेटेस्‍ट हि‍न्‍दी खबर और वाराणसी से जुड़ी जानकारी के लि‍ये हमारा ऐप डाउनलोड करने के लि‍ये  यहां क्लिक करें।

Share this story