एसएमएच और एबीएमएसएस की पहल, गरीब बच्चों की होगी निशुल्क होंठ-तालू सर्जरी

एसएमएच और एबीएमएसएस की पहल, गरीब बच्चों की होगी निशुल्क होंठ-तालू सर्जरी
एसएमएच और एबीएमएसएस की पहल, गरीब बच्चों की होगी निशुल्क होंठ-तालू सर्जरी


नई दिल्ली, 03 अप्रैल (हि.स.)। दिल्ली कड़कड़डूमा स्थित, शांति मुकंद अस्पताल (एसएमएच) और बैंगलोर की अखिल भारतीय महिला सेवा समाज (एबीएमएसएस) ने उत्तर भारत के गरीब बच्चों के लिए निशुल्क होंठ-तालू सर्जरी प्रदान करने के लिए संयुक्त रूप से आज एक विशेष वार्ड का उद्घाटन किया।

इस पहल के तहत, एसएमएच के अनुभवी डॉक्टर एबीएमएसएस द्वारा पहचाने गए बच्चों को मुफ्त होंठ-तालू सर्जरी प्रदान करेंगे। और शांति मुकंद अस्पताल अस्पताल में सर्जरी के बाद बच्चों को पूरी तरह से ठीक होने तक देखभाल भी प्रदान की जाएगी। इस अवसर पर शांति मुकंद अस्पताल के मैनेजिंग ट्रस्टी ओ पी गुप्ता, वरिष्ठ सर्जन डॉ रविकांत सिंह, एबीएमएसएस के डॉ दुष्यंत प्रसाद, डॉ चैत्रा आनंद सहित कई गणमान्य व्यक्तियों की उपस्थित रही।

उल्लेखनीय है होंठ-तालू का फटना एक जन्मजात समस्या है जो न केवल खाने-पीने और बोलने में दिक्कत पैदा करती है, बल्कि बच्चों को आत्मविश्वास की कमी और सामाजिक तिरस्कार का भी सामना करना पड़ता है। इस समस्या को देखते हुए शांति मुकंद अस्पताल और अखिल भारतीय महिला सेवा समाज (एबीएमएसएस) ने अपने सामाजिक उत्तरदायित्व कार्यक्रम के अंतर्गत सयुक्त रूप से इस पहल शुरुवात की है दोनों संस्थाओं के सहयोग से, उत्तर भारत में इससे प्रभावित बच्चों के लिए निशुल्क सर्जरी प्रदान करने के लिए कम्प्रिहेंसिव केयर सेवा सुविधा का उद्घाटन किया गया है।

यह पहल स्वास्थ्य संबंधी असमानताओं को संबोधित करने में एक महत्वपूर्ण मील का पत्थर है और दोनों संगठनों की सामाजिक जिम्मेदारी की पुनः पुष्टि करता है। और संभवतः दिल्ली क्षेत्र में निशुल्क सर्जरी करने वाला पहला संसथान होगा। विशेषकर उन लोगों के लिए ये वरदान होगा जो इलाज की लागत का बोझ नहीं उठा सकते। इस महत्वपूर्ण विषय को पहचानते हुए, एसएमएच और एबीएमएसएस ने बिना शुल्क व्यापक देखभाल सेवाएं प्रदान करने का हाथ मिलाया है।

इस आधिकारिक घोषणा से पहले संस्था ने सफलतापूर्वक 28 सर्जरी की हैं, जो प्रमुखतः दिल्ली एनसीआर, उत्तर प्रदेश, और बिहार के रोगियों को प्रदान की गई।

उद्घाटन समारोह के दौरान, शांति मुकंद अस्पताल से डॉ रविकांत सिंह ने अपना उत्साह व्यक्त करते हुए कहा , यह पहल हमारी समुदाय की सेवा करने की हमारी प्रतिबद्धता को दर्शाती है और सुनिश्चित करती है कि प्रत्येक बच्चा, उनके वित्तीय स्थिति के बावजूद, वह संरक्षण प्राप्त करे जिसका वो अधिकारी है। हम इस नेक कार्य में एबीएमएसएस के साथ साझा करने पर गर्वित हैं।

एबीएमएसएस के कार्यकारी निदेशक डॉ. दुष्यंत प्रसाद, सहित डॉ. आशीष शेट्टी और चैत्रा वी आनंद ने इस सहयोगी प्रयास के महत्व को उजागर करते हुए कहा , हमारा एसएमएच के साथ साझा दृष्टिकोण हमारी संयुक्त सामाजिक दृष्टि का प्रतिबिंब है। हम साथ में बच्चों और उनके परिवारों के जीवन में एक प्रभावशाली परिवर्तन करने का लक्ष्य रखते हैं, जो उन्हें अधिक स्वस्थ और संतुष्ट जीवन जीने की शक्ति प्रदान करता है।

यह पहल स्वास्थ्य सेवा में असमानता को कम करने और सामाजिक न्याय को बढ़ावा देने की दिशा में एक महत्वपूर्ण कदम है। यह गरीब बच्चों को बेहतर जीवन जीने का अवसर प्रदान करेगा और उन्हें समाज में मुख्यधारा में लाने में मदद करेगा।

हिन्दुस्थान समाचार/ अनूप

हमारे टेलीग्राम ग्रुप को ज्‍वाइन करने के लि‍ये  यहां क्‍लि‍क करें, साथ ही लेटेस्‍ट हि‍न्‍दी खबर और वाराणसी से जुड़ी जानकारी के लि‍ये हमारा ऐप डाउनलोड करने के लि‍ये  यहां क्लिक करें।

Share this story