पहली रात मुख्यमंत्री की बेचैनी में कटी

नई दिल्ली, 2 अप्रैल (हि.स.)। दिल्ली के मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल की तिहाड़ के जेल नंबर दो में पहली रात बड़ी बेचैनी में कटी। पूरी रात में वह तीन बार उठे। तिहाड़ जेल के अधिकारिक सूत्रों के मुताबिक, उन्हें ठीक से नींद नहीं आई, हालांकि जेल पहुंचने के बाद रात में कुछ देर उन्होंने टीवी पर समाचार देखा। इसके बाद वो सोने चले गए। उनकी सेल में और सेल के बाहर सुरक्षा के कड़े इंतजाम किए गए हैं, जहां सेल के अंदर सीसीटीवी की निगरानी है। जेल सूत्रों की मानें तो एक आइसोलेशन रूम देते हुए तीन किताबें रखने के लिए एक टेबल और एक कुर्सी दी गई है।

डायबिटीज को ध्यान में रखते हुए केजरीवाल को शुगर सेंसर, ग्लूकोमीटर, ग्लूकोज और अचानक शुगर कम होने पर जेल सुप्रिटेंडेंट को टॉफी देने को कहा गया है। कथित शराब घोटाला मामले में मुख्यमंत्री को फिलहाल 15 अप्रैल तक यहां रहना होगा। केजरीवाल ने सुबह जेल का ही ब्रेकफास्ट किया। जेल सूत्रों के मुताबिक, अरविंद केजरीवाल को एक मुजरिम किट दी गई है। इस किट में चप्पल, चादर के अलावा बाकी जरूरी सामान हैं।

रात को उन्होंने घर का ही खाना खाया था। सुबह उन्होंने तिहाड़ जेल का ही ब्रेकफास्ट खाया है। उन्होंने योगा भी किया है। केजरीवाल ने कुछ डिमांड नहीं की है। लंच के लिए अभी तक घर का खाना आया नहीं है इसलिए वो जेल का खाना ही खाएंगे। लंच में 5 रोटी या चावल बाकी सब्जी दाल दी जाती है। दिल्ली के मुख्यमंत्री सुबह से बैरक में ही हैं।

हिन्दुस्थान समाचार/ अश्वनी/अनूप

हमारे टेलीग्राम ग्रुप को ज्‍वाइन करने के लि‍ये  यहां क्‍लि‍क करें, साथ ही लेटेस्‍ट हि‍न्‍दी खबर और वाराणसी से जुड़ी जानकारी के लि‍ये हमारा ऐप डाउनलोड करने के लि‍ये  यहां क्लिक करें।

Share this story