राहुल गांधी के कथित आपत्तिजनक बयान के विरोध में अभाविप जेएनयू इकाई ने किया पुतला दहन

WhatsApp Channel Join Now

नई दिल्ली, 03 जुलाई (हि.स.)। अखिल भारतीय विद्यार्थी परिषद (अभाविप) जेएनयू इकाई ने आज राहुल गांधी द्वारा संसद में दिए गए कथित हिन्दू विरोधी आपत्तिजनक बयान को लेकर साबरमती लॉन में उनका पुतला जलाया। अभाविप के कार्यकर्ताओं ने राहुल गांधी के बयान की निंदा की और इसे लोकतंत्र, हिन्दू हितों के विरुद्ध और देश की एकता एवं अखंडता पर आघात बताया।

इस विरोध प्रदर्शन में अभाविप के कई कार्यकर्ताओं के साथ आम छात्रों ने भाग लिया और राहुल गांधी के खिलाफ नारे लगाए। कार्यकर्ता अपने हाथों में पोस्टर और बैनर लिए हुए थे, जिन पर राहुल गांधी के बयान की निंदा करने वाले संदेश लिखे हुए थे। इस अवसर पर अभाविप जेएनयू इकाई ने अपने संकल्प को दोहराया कि वे ऐसे किसी भी अपमानजनक बयान का विरोध करते रहेंगे जो हमारे राष्ट्र के सम्मान और एकता के खिलाफ हो।

अभाविप जेएनयू इकाई के अध्यक्ष राजेश्वरकांत दूबे ने कहा, राहुल गांधी का संसद में दिया गया बयान अत्यंत निंदनीय और अस्वीकार्य है। ऐसे बयान हमारे देश की गरिमा और हमारे लोकतांत्रिक संस्थानों की प्रतिष्ठा को ठेस पहुंचाते हैं। साथ ही सम्पूर्ण विश्व के हिन्दुओं की भी आस्था को ठेस पहुंचाने का ये प्रयास है। अभाविप इसका कड़ा विरोध करती है और मांग करती है कि राहुल गाँधी अपने बयान के लिए सार्वजनिक रूप से माफी मांगें।

अभाविप जेएनयू इकाई की मंत्री शिखा स्वराज ने कहा, राहुल गांधी समेत कई अन्य कांग्रेस नेता पूर्व में भी ऐसे हिन्दू विरोधी बयान दें चुके है जो स्पष्ट करता है की पूरी कांग्रेस पार्टी देश की शांति व्यवस्था में असंतुलन लाने का प्रयास हमेशा से करती रही है। अभाविप राहुल गांधी के खिलाफ अपने विरोध को जारी रखेगी जब तक कि वे सार्वजनिक रूप से माफी नहीं मांगते।

हिन्दुस्थान समाचार/ अश्वनी/रामानुज

हमारे टेलीग्राम ग्रुप को ज्‍वाइन करने के लि‍ये  यहां क्‍लि‍क करें, साथ ही लेटेस्‍ट हि‍न्‍दी खबर और वाराणसी से जुड़ी जानकारी के लि‍ये हमारा ऐप डाउनलोड करने के लि‍ये  यहां क्लिक करें।

Share this story