बीबीसी डॉक्यूमेंट्री की स्क्रीनिंग पर जेएनयू के बाद जामिया में बवाल, चार छात्र हिरासत में



बीबीसी डॉक्यूमेंट्री की स्क्रीनिंग पर जेएनयू के बाद जामिया में बवाल, चार छात्र हिरासत में


नई दिल्ली, 25 जनवरी (हि.स.)। जामिया मिल्लिया इस्लामिया सेंट्रल यूनिवर्सिटी में बुधवार को प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी पर आधारित बीबीसी की डॉक्यूमेंट्री दिखाई जाएगी। इसे लेकर सोशल मीडिया पर आमंत्रण पत्र शेयर किया जा रहा है। एसएफआई की ओर से ट्विटर पर पैम्फलेट शेयर किए जा रहे हैं। लोगों और छात्रों से अपील की जा रही है कि वह जामिया के गेट नंबर आठ पर शाम 6 बजे जरूर पहुंच जाएं। वहीं, इसको लेकर बुधवार को कैंपस परिसर में भारी सुरक्षाबलों की तैनाती की गई है।

इधर, दूसरी तरफ एसएफआई का आरोप है कि उनके कुछ छात्रों को दिल्ली पुलिस ने डिटेन कर लिया है, जिसे लेकर एसएफआई ने शाम 4 बजे धरना प्रदर्शन करने का ऐलान भी कर दिया है। उल्लेखनीय है कि भारत सरकार ने प्रधानमंत्री मोदी पर बीबीसी द्वारा बनाई डॉक्यूमेंट्री को दिखाने पर प्रतिबंध लगाया हुआ है।

सोशल मीडिया पर एसएफआई जानकारी साझा कर रही है कि जामिया के छात्र अजीज, निवेद्या, अभिराम और तेजस को पुलिस ने डिटेन कर लिया है। पुलिस डॉक्यूमेंट्री की स्क्रीनिंग नहीं होने देगी। इसलिए इस जुल्म के खिलाफ सभी जामिया पहुंचे। शाम 4 बजे बड़ा प्रदर्शन करने की चेतवानी दी गई है। हालांकि, छात्रों के प्रदर्शन को देखते हुए पुलिस ने सुरक्षा बढ़ा दी है।

जेएनयू में बीती रात बीबीसी की डॉक्यूमेंट्री दिखाने को लेकर छात्रों के दो गुटों में झड़प हो गई थी। हालात यह बने कि छात्र एक दूसरे पर पत्थर तक चलाने लगे। अब इस पूरे मामले पर पुलिस जांच कर रही है। वहीं, जेएनयू छात्रसंघ की अध्यक्ष आइशी घोष ने कहा है कि वह आज बीबीसी की डॉक्यूमेंट्री की स्क्रीनिंग दिखाएंगी।

हिन्दुस्थान समाचार/अश्वनी

हमारे टेलीग्राम ग्रुप को ज्‍वाइन करने के लि‍ये  यहां क्‍लि‍क करें, साथ ही लेटेस्‍ट हि‍न्‍दी खबर और वाराणसी से जुड़ी जानकारी के लि‍ये हमारा ऐप डाउनलोड करने के लि‍ये  यहां क्लिक करें।

Share this story