यूपीए सरकार ने राईट टू फूड भोजन का अधिकार कानून लागू किया था-कांग्रेस

यूपीए सरकार ने राईट टू फूड भोजन का अधिकार कानून लागू किया था-कांग्रेस
यूपीए सरकार ने राईट टू फूड भोजन का अधिकार कानून लागू किया था-कांग्रेस


रायपुर, 15 मई (हि.स.)। कांग्रेस के राष्ट्रीय अध्यक्ष मल्लिकार्जुन खड़गे के द्वारा सरकार बनने पर 10 किलो अनाज देने की घोषणा का कांग्रेस ने स्वागत किया। प्रदेश कांग्रेस के वरिष्ठ प्रवक्ता धनंजय सिंह ठाकुर ने बुधवार को बयान जारी कर कहा कि केंद्र में कांग्रेस सरकार बनने पर गरीबों को प्रति व्यक्ति प्रति माह 10 किलो अनाज दिया जाएगा। प्रदेश में कांग्रेस की सरकार ने प्रति परिवार 35 किलो चावल दिया, जिसे भाजपा सरकार बंद कर प्रति व्यक्ति पांच किलो चावल दे रही है, जो गरीबों के साथ अन्याय है।

उन्होंने कहा कि कांग्रेस की यूपीए सरकार ने राईट टू फूड भोजन का अधिकार कानून लागू किया था, जिसके चलते ही केंद्र सरकार प्रति व्यक्ति पांच किलो अनाज दे रही है। अब उसमें बढ़ोत्तरी किया जाएगा। बीते 10 साल में केंद्र की भाजपा सरकार ने गरीबों पर अत्याचार किया है, हर वर्ग रोजी, रोजगार के गंभीर संकट से जूझ रहा है। महंगाई, बेरोजगारी देश की मूल समस्या हो गई है और इससे निजात देने के लिए कांग्रेस ने चुनाव में अनेक घोषणा की है और योजना बनाई है जिस पर देश की जनता भरोसा कर रही है।

धनंजय ने कहा कि जनता, भाजपा सरकार के तानाशाही और मनमानी से हताश और परेशान है। भाजपा सरकार की कुनीतियों से हर वर्ग परेशान है। हर हाथ में बेरोजगारी दिख रहा है, हर घर में महंगाई तांडव कर रही है। कांग्रेस, जनता की इन्हीं मुद्दों पर सदन से लेकर सड़क तक में लड़ाई लड़ी और अब चुनाव में भी जनता की इन्हीं समस्याओं को अपने न्याय पत्र में आकार देकर देश के सामने विजन को रखा है।

हिन्दुस्थान समाचार/ चंद्रनारायण शुक्ल/ केशव

हमारे टेलीग्राम ग्रुप को ज्‍वाइन करने के लि‍ये  यहां क्‍लि‍क करें, साथ ही लेटेस्‍ट हि‍न्‍दी खबर और वाराणसी से जुड़ी जानकारी के लि‍ये हमारा ऐप डाउनलोड करने के लि‍ये  यहां क्लिक करें।

Share this story